फेसबुक ने 58.3 करोड़ फर्जी अकाउंट बंद किये

Samachar Jagat | Wednesday, 16 May 2018 04:47:10 PM
Facebook closes 58.3 million fake accounts

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

पेरिस। विश्व की प्रमुख सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक ने 2018 के पहले तीन महीने में 58.3 करोड़ फर्जी अकाउंट बंद किये हैं। 

ट्विटर ने आपत्तिजनक ट्रोल के खिलाफ जंग तेज की

फेसबुक ने इसके अलावा बताया कि वह उन भड़काऊ या हिंसक चित्र, आतंकवादी दुष्प्रचार अथवा घृणा फैलाने वाले अकाउंट के खिलाफ किस प्रकार कदम उठा रहा है जो सामुदायिक मानकों के खिलाफ हैं। 
कैंब्रिज एनालिटिका डाटा कांड के बाद पारदर्शिता की दिशा में कदम उठाते हुए फेसबुक ने कल कहा कि हर दिन लाखों फर्जी अकाउंट बनाने की कोशिश को रोकने के लिए उसने यह कदम उठाया हैं। समूह ने बताया कि इसके बावजूद कुल सक्रिय अकाउंट की तुलना में 3-4 प्रतिशत फर्जी अकाउंट अभी तक हैं। 

इसके अलावा इस अवधि में 83.7 करोड़ पोस्ट को हटाया गया। फेसबुक ने पहली तिमाही में भड़काऊ या हिंसक चित्र, आतंकवादी दुष्प्रचार अथवा घृणा फैलाने वाली करीब तीन करोड़ पोस्ट पर चेतावनी जारी की। 

फेसबुक ने 85.6 प्रतिशत मामलों में उपयोगकर्ताओं के सतर्क करने से पहले ही फेसबुक ने आपत्तिजनक चित्रों का पता लगा लिया। इसके अलावा कंपनी ने कहा कि करीब 200 एप को सोशल मीडिया प्लेटफार्म से हटा दिया, जिनके बारे में डाटा के दुरूपयोग का पता चला था। 

फेसबुक की विषय सामग्री के बारे में अन्य शब्दों में कहा जाए तो देखी गयी प्रत्येक 10 हजार विषय सामग्री में से 22 से 27 में ग्राफिक हिंसा मौजूद थी। कंपनी ने बताया कि फेसबुक ने आतंकवादी दुष्प्रचार से संबंधित एक करोड़ नब्बे लाख पोस्ट के खिलाफ कार्रवाई की। ऐसी पोस्टों में 73 फीसदी की वृद्धि हुई।

4,999 रुपए में यहां पर मिल रहा है Xiaomi Redmi 5A  

फेसबुक की वैश्चिक योजना प्रबंधन की प्रमुख मोनिका बिकेट ने बताया कि कंपनी ने तीन हजार और कर्मचारियों को भर्ती करने की अपनी प्रतिबद्धता को उसने पूरा किया है। इसके चलते इस वर्ष के शुरू में मानकों को लागू करने के लिए विशेष तौर पर काम करने वाले कर्मचारियों की संख्या बढ़कर 7500 हो गयी है।
 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.