अगर यहाँ लडक़ी कर दे कुंवारे लडक़े की पिटाई, तो घर में बज जाती है शहनाई

Samachar Jagat | Sunday, 27 Nov 2016 01:17:22 PM
अगर यहाँ लडक़ी कर दे कुंवारे लडक़े की पिटाई, तो घर में बज जाती है शहनाई

जोधपुर। आप सभी लोगों ने बरसाने की प्रसिद्ध बेंतमार होली के बारे में तो सुना ही होगा। आज हम आपको राजस्थान के मारवाड़ प्रान्त खासकर जोधपुर में मनाए जाने वाले इसी तरह के एक उत्सव के बारे में बता रहे है। इस उत्सव का नाम है ‘धींगा गवर’।

इस उत्सव में लड़कियां कुंवारे लडक़ों को दौड़ा-दौड़ाकर डंडे मारती हैं। यहां  की इस मान्यता के अनुसार डंडा अगर किसी लडक़े पर लगता है तो उसकी शादी होना पक्का समझा जाता है। 

इस उत्सव को बेंतमार गणगौर के रूप में जाना जाता है। बता दें कि मारवाड़ में लगभग 80-100 वर्ष पहले ये मान्यता थी कि धींगा गवर के दर्शन पुरुष नहीं करते। क्योंकि तत्कालीन समय में ऐसा माना जाता था कि जो भी पुरुष धींगा गवर के दर्शन कर लेता था उसकी मृत्यु हो जाती थी।

मार पड़ती तो जल्दी होगा विवाह-ऐसे में धींगा गवर की पूजा करने वाली सुहागिनें अपने हाथ में बेंत या डंडा ले कर आधी रात के बाद गवर के साथ निकलती थी।

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.