French डॉक्टर ने डायना के अंतिम पलों वाली भयावह रात को याद किया

Samachar Jagat | Monday, 29 Aug 2022 04:10:57 PM
French doctor recounts the horrific night of Diana's final moments

पेरिस : कार दुर्घटना में राजकुमारी डायना की मौत के 25 साल बाद भी फ्रांसीसी डॉक्टर फ्रेडरिक मैलीज को जब यह घटना याद आती है तो उन्हें लगता है कि क्या वह डायना को बचा सकते थे। पेरिस की अल्मा टनल में 31 अगस्त 1997 को प्रिंसेस डायना के साथ जो हादसा हुआ, उस दौरान उन्हें अंतिम क्षणों में जीवित देखने वाले कुछ लोगों में मैलीज भी शामिल थे।

उन्होंने जब देखा तो एक महिला क्षत-विक्षत मर्सडीज कार में बेसुध पड़ी थी और सांस लेने में कठिनाई महसूस कर रही थी।
उस दौरान एक पार्टी से अपने घर लौट रहे मैलीज के अनुसार, ''मुझे लगता है कि मेरा नाम इस भयावह घटना के साथ हमेशा जुड़ा रहेगा। मैं उनके अंतिम क्षणों के लिए खुद को थोड़ा बहुत जिम्मेदार मानता हूं।’’ ब्रिटेन और दुनियाभर में डायना के प्रशंसक उनकी 25वीं पुण्यतिथि पर उन्हें याद कर रहे हैं। इस मौके पर मैलीज ने उन मनहूस पलों को याद किया।

वह बताते हैं, ''मैं दुर्घटनाग्रस्त कार की तरफ गया। मैंने दरवाजा खोला और अंदर झांका। चार लोग थे। दो तो मृत ही लग रहे थे, जिनकी तरफ से कोई हलचल नहीं थी और वे सांस भी नहीं ले रहे थे। बाकी दो जिदा थे, लेकिन गंभीर हालत में थे।’’ उन्होंने कहा, ''आगे जो व्यक्ति बैठा था, वह चिल्ला रहा था, वह सांस ले रहा था। वहीं, एक महिला मर्सडीज में सीट से नीचे घुटनों के बल थी और उसका सिर नीचे था। उसे सांस लेने में कठिनाई हो रही थी। उसे फौरन मदद की जरूरत थी।’’ डॉक्टर मैलीज अपनी कार की तरफ दौड़कर गए और सांस लेने में मदद देने के लिए एक 'रेस्पिरेटरी बैग’ लेकर आए। उन्होंने आपात सेवाओं को फोन भी किया।

उन्होंने बताया, ''वह बेहोश थीं। मेरे 'रेस्पिरेटरी बैग’ की वजह से उनमें थोड़ी हरकत आई, लेकिन वह कुछ कह नहीं सकीं।’’
डॉक्टर मौलीज को बाद में पूरी दुनिया के साथ पता चला कि आखिरी क्षणों में उन्होंने जिस महिला का उपचार करने की कोशिश की, उसकी मौत हो गई है और वह ब्रिटेन की एक महत्वपूर्ण हस्ती प्रिंसेस डायना थीं, जिनके लाखों प्रशंसक थे। उन्होंने कहा, ''मुझे पता है कि यह ताज्जुब की बात है, लेकिन मैं प्रिंसेस डायना को नहीं पहचान पाया था। मैं कार में पिछली सीट पर उनकी मदद कर रहा था।

मैंने देखा कि वह बहुत सुंदर थीं, लेकिन मेरा ध्यान उनकी जान बचाने पर था। मेरे पास यह सोचने का वक्त नहीं था कि वह महिला कौन थी।’’ कुछ देर बाद कैमरों की रोशनी नजर आने लगी, पत्रकार वहां जमा होने लगे। एक अधिकारी ने पता लगाया कि डायना का पत्रकार हेनरी पॉल नशे में था और वह पीछा कर रहे फोटोग्राफरों से बचने के लिए तेज रफ्तार में कार चला रहा था मैलीज ने कहा, ''यह बात सामने आना बड़े झटके की बात थी कि वह प्रिंसेस डायना थीं और उनकी मौत हो गई है।’’ फ्रांसीसी डॉक्टर ने कहा कि उनके मन में सवाल उठने लगे कि ''क्या मैंने उन्हें बचाने के लिए सब कुछ किया? क्या मैंने अपना काम सही तरीके से किया?’’ 



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.