आज भूलकर भी ना करें ये काम, वरना मंगल देव के रूष्ठ होने से उठानी पड़ेंगी ये परेशानियां

Samachar Jagat | Tuesday, 21 May 2019 08:45:06 AM
Do not do this work by forgetting today Otherwise, these problems will have to be raised

धर्म डेस्क। मंगलवार का दिन हनुमान जी को प्रसन्न करने का दिन तो होता ही है, इसके साथ ही ये दिन मंगलदेव को प्रसन्न करने के लिए भी उत्तम माना जाता है। जिन जातकों की कुंडली में मंगल दोष होता है उन्हें मंगल देव को प्रसन्न करने की विशेष आवश्यकता होती है। मंगल देव को प्रसन्न करना बहुत ही आसान है लेकिन अगर मंगलवार के दिन ऐसे काम किए जाएं जो मंगलदेव को पसंद नहीं हैं तो इससे व्यक्ति को अनेक प्रकार की परेशानियों का सामना करना पड़ता है, आखिर वे कौनसे काम हैं जिनसे मंगलदेव अप्रसन्न होते हैं, आइए आपको बताते हैं इनके बारे में ................

इस शिव मंदिर में आकर एक अंग्रेज की पत्नी की मनोकामना हुई थी पूरी, पति से मिलने के बाद करवाया मंदिर का जीर्णोद्धार

मंगलवार के दिन न तो बाल कटवाने चाहिए और न ही नाखून काटने चाहिए, अगर मंगलवार को ये काम किए जाएं तो इससे मंगल देव रूष्ठ होते हैं और घर में दरिद्रता आती है।

मंगलवार के दिन उड़द की काली दाल नहीं खानी चाहिए। शास्त्रों के अनुसार इस दिन काली दाल खाने से व्यक्ति को परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

महाभारत के युद्ध की वजह थी ये स्त्री, माता के गर्भ ने नहीं अग्निकुंड से हुआ था इसका जन्म

इस दिन काली वस्तुएं, श्रृंगार का सामान, लोहे का सामान और नुकीली चीजें नहीं खरीदनी चाहिए। अगर मंगलवार के दिन ये चीजें खरीदी जाएं तो इससे घर में नकारात्मक ऊर्जा का संचार होता है।

मंगलवार के दिन पैसों का लेन—देन करने से भी बचना चाहिए। अगर इस दिन पैसों का लेनदेन किया जाए तो इससे धन हानि होती है।

( इस आलेख में दी गई जानकारियां धार्मिक आस्थाओं और लौकिक मान्यताओं पर आधारित हैं, जिसे मात्र सामान्य जनरुचि को ध्यान में रखकर प्रस्तुत किया गया है । )

सत्यवती ने इन तीन शर्तों को पूरा करने के बाद किया था ऋषि पाराशर के प्रेम को स्वीकार, जानिए क्या था इसका महाभारत से संबंध



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
रिलेटेड न्यूज़
ताज़ा खबर

Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.