हनुमान जयंती 2022: इस अनुष्ठान से करें हनुमानजी की पूजा, इन विशेष योगों में मनाई जाएगी हनुमान जयंती

Samachar Jagat | Tuesday, 12 Apr 2022 11:06:19 AM
Hanuman Jayanti 2022: Do Hanuman Jayanti with this ritual Hanumanji's worship will be completed

हनुमान जयंती 2022: राम भक्त हनुमानजी की जयंती हर साल चैत्र महीने में शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा के दिन मनाई जाती है। संकटमोचन हनुमानजी के भक्तों में हनुमान जयंती के अवसर पर बहुत उत्साह होता है और इस दिन को पूरे देश में बहुत धूमधाम से मनाया जाता है। रुद्रावतार हनुमानजी के जन्म का उद्देश्य राम अवतार के समय श्री विष्णु की सहायता करना था। इस साल हनुमान जयंती 16 अप्रैल को मनाई जाएगी। इस दिन व्रत रखा जाएगा और हनुमानजी का जन्मोत्सव मनाया जाएगा। आइए जानते हैं हनुमान जयंती तिथि के महत्व और पूजा-अर्चना के बारे में

  • हनुमान जयंती की तिथि 2022
  • पूर्णिमा तिथि प्रारंभ- शनिवार 16 अप्रैल प्रातः 2.25 बजे
  • पूर्णिमा तिथि समाप्त - रविवार 17 अप्रैल दोपहर 12.24 बजे

हनुमान जयंती पर हो रहा है शुभ योग
पंचांग गणना के अनुसार इस वर्ष हनुमान जयंती के दिन रवि योग किया जा रहा है. सूर्य पर इसके विशेष प्रभाव के कारण रवि योग को एक प्रभावी योग माना जाता है। इस योग में किया गया कोई भी कार्य सफल होता है। पंचाग के अनुसार इस दिन 16 अप्रैल को हस्त नक्षत्र प्रातः 8.40 बजे तक रहता है। इसके बाद चित्रा नक्षत्र शुरू होगा।

हनुमान जयंती के दिन पूजा के दौरान हनुमानजी के लिए इस पूजन सामग्री की आवश्यकता होगी
पूजा सामग्री
हनुमान जयंती के दिन पूजा के दौरान हनुमान जी के लिए इस पूजन सामग्री की आवश्यकता होगी। लाल नैपी, जल कलश, पंचामृत, जनेऊ, गंगा जल, सिंदूर चांदी सोना काम, लाल फूल और माला कपूर आदि।

पूजा अनुष्ठान
इस दिन हनुमान जी को प्रसन्न करने के लिए दीपक जलाएं। इसके अलावा हनुमान चालीसा और सुंदरकांड का पाठ करें।

  • हनुमानजी को गेंदा, कनेर, गुलाब के फूल चढ़ाएं।
  • प्रसाद में मालपुआ, लड्डू, चूरमा, केला, अमरूद आदि चढ़ाएं।
  • हनुमानजी के चित्र के आगे घी का दीपक जलाएं।
  • हनुमानजी को सिंदूर का छोला चढ़ाने से मानसिक कार्य तुरंत समाप्त हो जाते हैं।



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.