Health: कोरोना संक्रमण में कितना कारगर है रेमडेसिविर इंजेक्शन, जानें

Samachar Jagat | Monday, 26 Apr 2021 11:05:23 AM
Health: Remedisvir injection is so effective in Corona, experts said this

जयपुर। कोरोना वायरस के बढ़ते संक्रमण के बीच राजस्थान में ऑक्सीजन और रेमडेसिविर इंजेक्शन की सबसे ज्यादा मांग है। वैसे लोगों के मन में रेमडेसिविर इंजेक्शन को लेकर कई प्रकार के सवाल खड़े हो रहे हैं। क्या प्रत्येक संक्रमित मरीज को रेमडेसिविर इंजेक्शन लगवाना जरूरी है? क्या रेमडेसिविर के बिना कोई कोरोना संक्रमित मरीज सही नहीं हो सकता? क्या रेमडेसिविर इंजेक्शन ही कोरोना संक्रमित मरीजों की जान बचा सकता है? ऐसे कई सवाल हैं जो कोरोना संक्रमित और उनके परिजनों के सामने आ रहे हैं। आज हम बताने जा रहे हैं कि विशेषज्ञों ने रेमडेसिविर इंजेक्शन के बारे में क्या कहा है। 

सवाई मानसिंह चिकित्सा महाविद्यालय के प्रधानाचार्य एवं नियंत्रक डॉ. सुधीर भंडारी ने कहा कि पहले सप्ताह में कोविड कम्वेलेशेन्ट प्लाज्मा वायरल लॉड कम करने में काफी सहायता करता है। अत: रेमडेसिविर कोविड मैनेजमेन्ट का एक हिस्सा है, जिसकी उपयोगिता पहले 7 दिन में सबसे अधिक है एवं आवश्यकता होने पर इसे 10 दिन तक उपयोग में लिया जा सकता है।

रेमडेसिविर कोरोना बीमारी की अवधि को कम करता है, पर यह जीवन रक्षक दवाई नहीं है एवं मौत की दर को घटा नहीं सकता। यह एक एंटी वायरल ड्रग है और संक्रमण के शुरुआती दिनों में कारगर साबित होता है। संक्रमण अधिक फैलने पर लंग्स खराब होने की स्थिति में इसका इस्तेमाल किया जा सकता है। कोरोना के हर मरीज को इस इंजेक्शन की आवश्यकता नहीं लगती है। सामान्य लक्षणों वाले मरीजों को रेमडेसिविर इंजेक्शन नहीं लगाना होता है वे घर पर डी आइसोलेशन और सही देखरेख से ठीक हो सकते हैं, लेकिन वे मरीज जिनमें गंभीर लक्षणों के साथ-साथ ऑक्सीजन लेवल की कमी पाई जाती है उन्हें यह इंजेक्शन देना जरूरी होता है।

राजस्थान अस्पताल, जयपुर के डॉ. वीरेन्द्र सिंह ने कहा कि रेमडेसिविर दवा एंटी वायरल दवा है, जो केवल रोग के पहले सप्ताह में ऑक्सीजन की जरूरत वाले रोगियों में ही बीमारी का समय कम करने में असरदार है। मौत रोकने में यह नाकाम है। ऐसे में सिर्फ कुछ रोगियों को ही यह दवा देनी चाहिए। 
 



 
loading...




Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.