महाराष्‍ट्र, पंजाब, दिल्ली और चंडीगढ़ में लगाया गया कर्फ्यू, राजस्‍थान में लगाने की तैयारी

Samachar Jagat | Tuesday, 24 Mar 2020 06:47:34 AM
4175479231979480

कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार फैल रहा है. केरल व महाराष्ट्र सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य हैं. कोरोना वायरस से अब तक करीब पांच सौ से ज्यादा लोग शिकार हो चुके हैं. मरनेवालों का आंकड़ा भी नौ तक पहुंच गया है. कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए जनता कर्फ्यू और लॉकडाउन की घोषणा के बावजूद लोगों के अनावश्यक घरों से निकलने पर कई राज्यों ने सख्त कदम उठाए हैं. महाराष्ट्र, पंजाब, दिल्ली और चंडीगढ़ में कर्फ्यू लगा दिया गया है. राजस्थान ने सेना की मदद लेने का फैसला किया है. पंजाब के बाद राजधानी दिल्ली और महाराष्‍ट्र में भी कर्फ्यू लगाने का फैसला किया गया है. देश के तीस राज्‍यों और केंद्र शासित प्रदेशों में लॉकडाउन किया गया. इससे देश के 548 जिले शामिल हैं. पंजाब में संक्रमित मरीजों की संख्या में इजाफे के बावजूद लोग पाबंदियों का उल्लंघन कर रहे थे.



loading...

मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ट्वीट कर कहा कि यह सारे उपाय लोगों की बेहतरी के लिए किए जा रहे हैं. मैं खुश हूं कि लोग सहयोग कर रहे हैं. कुछ लोगों को सब की जिंदगी खतरे में डालने नहीं दूंगा. उन्होंने कहा कि कर्फ्यू में किसी व्यक्ति विशेष को विशेष परिस्थिति में ही ढील दी जाएगी. नियम तोड़ने वालों पर कानूनी कार्रवाई होगी. होम क्वारंटाइन का उल्लंघन करने वाले लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई की जा रही है. वहीं, केंद्र शासित चंडीगढ़ के प्रशासक वीपी सिंह बदनोर ने भी कहा कि स्थिति की गंभीरता को देखते हुए कर्फ्यू का निर्णय लिया गया है.

कोरोना से निपटने में आम जनता का पर्याप्त सहयोग मिलता न देख महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सोमवार को राज्य में कर्फ्यू लगाने की घोषणा करते हुए कहा कि वायरस के खिलाफ निर्णायक जंग का समय आ गया है. अगर अभी नहीं संभले तो हालात बहुत ही भयावह हो जाएंगे. राज्य में सभी जिलों की सीमाएं सील कर दी गई हैं. निजी वाहनों का आवागमन बंद कर दिया गया है. हरियाणा सरकार ने रविवार को राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से सटे सात जिलों में ही लॉकडाउन का ऐलान किया था, लेकिन सोमवार को मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सभी 22 जिलों में लाकडाउन की घोषणा कर दी. अभी यह लाकडाउन 31 मार्च तक रहेगा. जरूरत पड़ने पर इसकी अवधि बढ़ाई जा सकती है.

सरकार ने कहा कि फिलहाल उसका क‌र्फ्यू लगाने का इरादा नहीं है. हरियाणा ने दूसरे राज्यों के सभी इंटर स्टेट बार्डर सील कर दिए हैं. अंतरराज्यीय बसें भी नहीं चलेंगी. राजस्थान सरकार भी कोई खतरा उठाने को तैयार नहीं है. सरकार सेना और अ‌र्द्धसैनिक बल से मदद लेने पर विचार कर रही है. लॉकडाउन के दूसरे दिन प्रदेश के कुछ हिस्सों में लोग अपने काम से बाहर आए तो पुलिस ने उन्हे वापस घर भेज दिया. लोगों से सहयोग नहीं मिलने पर कर्फ्यू लगाने की तैयारी कर रही है. इस बारे में मंगलवार को निर्णय लिया जाएगा. राज्य के चिकित्सा मंत्री डॉ. रघु शर्मा ने कहा कि सख्ती की जाएगी.

पंजाब में किसी भी व्यक्ति के बेवजह बाहर निकलने पर पाबंदी लगा दी गई है. पंजाब के मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक के साथ बैठक कर यह बड़ा निर्णय लिया गया है. बैठक में राज्य के हालात की समीक्षा के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पूरे राज्य में हालात को काबू करने के लिए कर्फ्यू का एलान कर दिया. सभी जिलों के डीएम को यह निर्देश दिया गया है कि वे अपने इलाके में इस कानून को सख्ती के साथ लागू करें. सीएम ने कहा कि विशेष परिस्थिति में ही किसी को एक सिमित समय के लिए बाहर निकलने की अनुमति दी जाएगी. दिल्ली में भी कर्फ्यू का फैसला लिया गया और लोगों को कहीं जाने के लिए कर्फ्यू पास लेना जरूरी कर दिया गया है. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विश्लेशण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).


loading...


 
loading...

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.