Congress leader : पीएफआई के साथ-साथ आरएसएस, बजरंग दल और विहिप पर भी प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए

Samachar Jagat | Wednesday, 20 Apr 2022 04:23:22 PM
Congress leader : Along with PFI, RSS, Bajrang Dal and VHP should also be banned

बगलकोट (कर्नाटक) कर्नाटक |  कांग्रेस की प्रचार अभियान समिति के अध्यक्ष एम. बी.पाटिल ने बुधवार को कहा कि राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ, विश्व हिदू परिषद और श्री राम सेना पर भी पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया (पीएफआई) और इसके राजनीतिक संगठन सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया (एसडीपीआई) के साथ प्रतिबंध लगाया जाना चाहिए।

कर्नाटक के पूर्व गृह मंत्री ने कहा कि यदि भारतीय जनता पार्टी नीत सरकार ने इस तरह के सभी साम्प्रदायिक संगठनों पर प्रतिबंध लगाने का फैसला किया तो कांग्रेस  इसका पूरी तरह से समर्थन करेगी।
पाटिल ने कहा, ''ऐसी खबरें हैं कि केंद्र सरकार पीएफआई पर प्रतिबंध लगाने की योजना बना रही है, उसे तत्काल ऐसा करना चाहिए। एसडीपीआई को भी प्रतिबंधित करें, हमारा समर्थन रहेगा। उसके साथ-साथ आरएसएस, बजरंग दल, विहिप और श्री राम सेना को भी प्रतिबंधित किया जाना चाहिए। ’’

उन्होंने यहां संवाददाताओं से कहा कि साम्प्रदायिक गतिविधियों में शामिल इन सभी संगठनों को प्रतिबंधित किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा, ''...एआईएमआईएम (ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन) को भी प्रतिबंधित किया जाए, हमें कोई आपत्ति नहीं है, बल्कि ऐसा कर आप (भाजपा सरकार) मजबूत होंगे... कांग्रेस पार्टी पूरा समर्थन करेगी।’’

राज्य के हुबली में हुई हालिया हिसा पर एक सवाल के जवाब में पाटिल ने कहा कि कानून से ऊपर कोई नहीं है और कानून अपने हाथ में नहीं लेना चाहिए तथा दोषियों को गिरफ्तार किया जाना चाहिए। उनके खिलाफ कठोर कार्रवाई करनी चाहिए। उन्होंने यह भी कहा कि मामले के सिलसिले में बेकसूर लोगों को प्रताड़ित नहीं करना चाहिए।

उल्लेखनीय है कि सोशल मीडिया पर डाले गये एक पोस्ट को लेकर रविवार तड़के हुबली में एक भीड़ ने कथित तौर पर उग्र रूप धारण कर लिया। उसने कई पुलिस वाहनों, एक अस्पताल और एक हनुमान मंदिर को क्षतिग्रस्त कर दिया। इस दौरान ड्यूटी पर मौजूद कुछ पुलिस अधिकारी भी घायल हो गये। 



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.