सरकार की हुडको, एनबीसीसी, एनटीपीसी में शेयर बिक्री की योजना, 5,900 करोड़ रुपए जुटाने की उम्मीद

Samachar Jagat | Friday, 27 Jul 2018 05:40:05 PM
Government plans to sell stake in HUDCO, NBCC, NTPC, 5,900 crores

नई दिल्ली। सरकार जमीन - जायदाद के विकास से जुड़ी कंपनियां हुडको तथा एनबीसीसी में 10-10 प्रतिशत हिस्सेदारी बिक्री पेशकश के जरिए बेचने की योजना बना रही है। इसके अलावा तीन प्रतिशत हिस्सेदारी एनटीपीसी में बेचने की योजना है। इससे सरकारी खजाने को कुल मिलाकर 5,900 करोड़ रुपए मिल सकते हैं। एक सूत्र ने बताया कि वित्त मंत्रालय हुडको और एनबीसीसी में हिस्सेदारी बिक्री के प्रबंधन के लिए मर्चेन्ट बैंकरों की नियुक्ति को लेकर अनुरोध प्रस्ताव लाएगा। 

उसने कहा , मंत्रिमंडल ने एनबीसीसी और हुडको में बिक्री पेशकश के जरिए 10 प्रतिशत तक हिस्सेदारी बिक्री को मंजूरी दी है। इसे एक बार में बेचा जाएगा या नहीं , इसका निर्णय निवेशकों की प्रतिक्रिया के आधार पर किया जाएगा। मौजूदा बाजार भाव पर हुडको और एनबीसीसी में 10 प्रतिशत हिस्सेदारी बिक्री से सरकारी खजाने को क्रमश : 1,000 करोड़ रुपए और 1,200 करोड़ रुपए प्राप्त होने की उम्मीद है। एनटीपीसी में बिक्री पेशकश के जरिए तीन प्रतिशत हिस्सेदारी बेचने से 3,700 करोड़ रुपए प्राप्त होने की संभावना है। 

मंत्रिमंडल पहले ही बिजली कंपनी एनटीपीसी में 10 प्रतिशत हिस्सेदारी बिक्री को मंजूरी दे चुका है। इसमें से 7 प्रतिशत हिस्सेदारी पिछले साल अगस्त में बेची गयी। हिस्सेदारी बिक्री से 9,100 करोड़ रुपए मिले। सूत्र ने कहा कि बाजार स्थिति के आधार पर हिस्सेदारी बिक्री होगी। उसने कहा , हुडको और एनबीसीसी में हिस्सेदारी बिक्री अक्तूबर - दिसंबर तिमाही में हो सकती है। 

फिलहाल हुडको में सरकार की हिस्सेदारी 89.81 प्रतिशत तथा एनबीसीसी में 73.69 प्रतिशत है। वहीं एनटीपीसी में सरकार की हिस्सेदारी 61.71 प्रतिशत है। सरकार ने चालू वित्त वर्ष में विनिवेश के जरिए 80,000 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखा है। अब तक 9,000 करोड़ रुपए जुटा चुकी है। -एजेंसी 

इजराइल की सरकारी एयरलाइंस ने एयर इंडिया उड़ानों के खिलाफ याचिका वापस ली

सरकार ने गन्ने के रस से सीधे एथेनॉल बनाने के आदेश को अधिसूचित किया



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.