शहीद प्रभुसिंह के पिता ने कहा, 'मैंने बेटे को देश के लिए कुर्बान कर दिया'

Samachar Jagat | Wednesday, 23 Nov 2016 04:00:07 PM
शहीद प्रभुसिंह के पिता ने कहा, 'मैंने बेटे को देश के लिए कुर्बान कर दिया'

जोधपुर। माछिल में लाइन ऑफ कंट्रोल पर शहीद हुए जवान प्रभु सिंह के पिता चंद सिंह ने कहा कि भारत को इसका सख्त जवाब देना चाहिए। उन्होंने कहा कि मैंने अपना इकलौता बेटा खोया है। उन लोगों को सबक सिखाने के लिए मैं फिर से आर्मी ज्वाइन करना चाहूंगा। 

गौरतलब है कि कुपवाड़ा के माछिल सेक्टर में पाकिस्तान की बॉर्डर एक्शन टीम (बैट) ने भारतीय गश्ती दल पर घात लगाकर हमला किया। इसमें तीन जवान शहीद हो गए। प्रभु सिंह का शव क्षत-विक्षत कर दिया था। शहीद गनर मनोज कुशवाह और राइफलमैन शशांक कुमार सिंह उप्र के गाजीपुर से हैं। वहीं प्रभु सिंह राजस्थान के जोधपुर के रहने वाले हैं। प्रभु का आज जन्मदिन है। उसकी 8 माह की बेटी भी है। चंदन सिंह ने कहा- मैंने देश के लिए अपना बेटा कुर्बान कर दिया। पाकिस्तान को इसका करारा जवाब देना चाहिए।

पाक सैनिकों के साथ भी अब यही सलूक किया जाए: 
जम्मू कश्मीर के माछिल सेक्टर में मंगलवार को हमारे तीन जवान शहीद हो गए। एक शहीद के शव के साथ बर्बरता की गई। इसके बाद देश में पाकिस्तान के खिलाफ फिर गुस्सा देखा जा रहा है। सोशल मीडिया पर एक शख्स ने कहा- अब बहुत हो गया। जो पाकिस्तान ने किया, उसके साथ भी वही किया जाए। जम्मू-कश्मीर के डिप्टी सीएम निर्मल सिंह ने कहा- पाकिस्तान इंसानियत भूल चुका है। वो आज भी उस दौर में जी रहा है जब सिविलाइज्ड सोसायटी नहीं थी।

डिफेंस एक्सपर्ट पीके सहगल ने कहा- इस घटना से आप अंदाजा लगा सकते हैं कि सॢजकल स्ट्राइक में पाकिस्तान को कितना नुकसान हुआ होगा। वो हमारे जवानों के शवों के साथ बर्बरता कर जिनेवा कन्वेंशन को तोड़ रहा है। भारी हथियारों का इस्तेमाल कर रहा है। एक और डिफेंस एक्सपर्ट अनिल गौड़ ने कहा- कारगिल युद्ध के दौरान हमारी सेना ने पाकिस्तान के कई सैनिक मार गिराए थे। लेकिन बाद में सभी को सम्मान के साथ दफनाया गया था।

भारत और पाकिस्तान के बीच लाइन ऑफ कंट्रोल पर पिछले कई दिनों से कायम तनाव, पाकिस्तान की कायराना करतूत से और बढ़ गया है। सेना ने कहा है कि माछिल सेक्टर में भारतीय जवान का सिर काटे जाने की हरकत का जोरदार बदला लिया जाएगा। साथ ही पाकिस्तान की इस घृणित करतूत से दोनों देशों के बीच संभावित द्विपक्षीय बातचीत भी खटाई में पड़ सकती है। इस बीच गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने आंतरिक सुरक्षा को लेकर बुधवार को एक अहम बैठक बुलाई है।

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.