राजस्थान के सीएम अशोक गहलोत ने चुनाव आयोग पर आम चुनाव की तारीखों में हुई देरी पर उठाए सवाल

Samachar Jagat | Monday, 11 Mar 2019 12:43:25 PM
Rajasthan Chief Minister Ashok Gehlot raises questions on delay in dates of general elections on Election Commission

नई दिल्ली। निर्वाचन आयोग ने रविवार को आगामी लोकसभा चुनाव के कार्यक्रम की घोषणा कर दी। इस बार लोकसभा चुनाव सात चरणों में होंगे। तो वहीं लोकसभा चुनाव की तारीखें घोषित करने में हुई देरी और नतीजे मई के आखिर तक आने को लेकर सवाल उठने लगे है। राजस्थान के मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता अशोक गहलोेत ने इस पर सवाल उठाए है। उन्होंने कहा कि तारीख घोषित करने को लेकर आयोग पर सरकार का दबाव था। 

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि पहले आठ को फिर नौ मार्च को इसकी घोषणा हो जानी थी। लेकिन जब पीएम के सभी कार्यक्रम और घोषनाएं समाप्त हो गई। तो उसके बाद आयोग ने तारीखें जारी की है। बता दें कि यदि पिछले दो आम चुनावों की तारीखें और घोषणा को देखें तो इस बार देर हुई है। साल 2009 में चुनाव आयोग ने आम चुनाव की तारीखें दो मार्च और साल 2014 के आम चुनाव की घोषणा पांच मार्च को की थी। 

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा ने रविवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि पहले चरण के लिये 11 अप्रैल को होने वाले मतदान के लिये 18 मार्च को अधिसूचना जारी होने के साथ ही चुनाव प्रक्रिया शुरु हो जायेगी। जो कि 23 मई को मतगणना के बाद 27 मई को पूरी होगी।

चुनाव आयुक्तों अशोक लवासा और सुशील चंद्रा के साथ संयुक्त संवाददाता सम्मेलन में अरोड़ा ने कहा कि लोकसभा चुनाव कार्यक्रम घोषित किये जाने के साथ ही देश में चुनाव आचार संहिता तत्काल प्रभाव से लागू हो गयी है। इसके साथ ही सरकार ऐसा कोई नीतिगत फैसला नहीं कर सकेगी जो मतदाताओं के 'निर्णय’ को प्रभावित कर सके। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.