कठुआ कांड: 'आठ साल की लड़की के बलात्कार और हत्या के पीछे जिहादियों का हाथ'

Samachar Jagat | Monday, 09 Jul 2018 10:23:56 AM
Jihadis hand behind rape and murder of an eight-year-old girl

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

जम्मू । कठुआ बलात्कार एवं हत्याकांड के कुछ आरोपियों की पैरवी कर रहे एक वकील ने रविवार को दावा किया कि इस जघन्य घटना के पीछे जिहादियों का हाथ है और जम्मू - कश्मीर की धार्मिक जनांकिकी (डेमोग्राफी) में बदलाव लाने की मंशा से आठ साल की लड़की का शव रखा गया था।

गृह मंत्री के भतीजे के खिलाफ बलात्कार का आरोप, महिला ने 30 महीने के बच्चे की मां होने का किया दावा

अंकुर शर्मा नाम के इस वकील ने अपने आरोप के समर्थन में कोई साक्ष्य पेश नहीं किया है। उसने यह आरोप ऐसे समय में लगाया है जब इस मामले के शिकायतकर्ता ने कल ही पठानकोट की जिला एवं सत्र अदालत में अपना बयान दर्ज कराने की प्रक्रिया पूरी की। शिकायतकर्ता ने कहा कि मुख्य आरोपी सांझी राम खानाबदोश समुदाय को निशाना बनाता रहता था ताकि वे गांव में बस नहीं सकें।

निर्भया केस: सुप्रीम कोर्ट आज सुना सकता है अहम फैसला, 3 दोषियों की पुनर्विचार याचिका पर होगी सुनवाई

कठुआ कांड के आरोपियों की पैरवी कर रहे वकीलों में शामिल शर्मा ने राज्य के राज्यपाल एन एन वोहरा से कहा कि वह तत्काल इस मामले की सीबीआई जांच के आदेश दें। बहरहाल, न्यायिक विशेषज्ञों ने शर्मा के दावे और मांग पर आश्चर्य प्रकट किया क्योंकि उच्चतम न्यायालय के निर्देश पर यह मामला जिला एवं सत्र अदालत को सौंपा गया है और निचली अदालत पहले ही आरोपियों के खिलाफ आरोप तय कर चुकी है।

अपनी शुरुआती टिप्पणियों में शर्मा ने कहा कि मामला सीबीआई को सौंप दिया जाना चाहिए, क्योंकि जिहादियों ने हत्या को अंजाम देकर वहां शव रख दिया और इलाके की धार्मिक जनांकिकी को बदलने की मंशा से हत्या की गई।

आदिवासियों के धर्मांतरण के प्रयास में 16 गिरफ्तार, ईसाई मिशनरियों से सम्बंध रखता है संगठन

गौरतलब है कि शर्मा सहित बचाव पक्ष के कुछ वकीलों ने बीते मई में उच्चतम न्यायालय का रुख कर इस मामले की जांच का जिम्मा सीबीआई को सौंपने की मांग की थी। लेकिन शीर्ष न्यायालय ने इन वकीलों का अनुरोध नहीं माना। न्यायालय ने मुकदमे की सुनवाई कठुआ की सत्र अदालत की बजाय पंजाब के पठानकोट की जिला एवं सत्र अदालत में करने के निर्देश दिए।

एक अल्पसंख्यक खानाबदोश समुदाय की आठ साल की लड़की 10 जनवरी को जम्मू क्षेत्र के कठुआ से सटे अपने गांव से लापता हो गई थी। एक हफ्ते बाद उसका शव उसी इलाके में पाया गया था।

 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...


Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.