भारत का ‘एक्ट ईस्ट पॉलिसी’ दक्षिण पूर्व एशिया के करोड़ों लोगों के सपनों को जोडऩे वाला: कोविंद

Samachar Jagat | Thursday, 11 Jan 2018 07:46:02 PM
Rajgir Bihar President Ramnath Kovind

राजगीर (बिहार)। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने आज कहा कि भारत का एक्ट ईस्ट पॉलिसी सिर्फ बड़े व्यापार और निवेश पर लक्षित राजनयिक पहल ही नहीं है बल्कि यह भारत और दक्षिण पूर्व एशिया में रहने वाले करोड़ों लोगों की उम्मीदों और सपनों को जोडऩे का महत्वपूर्ण प्रयास है।

कोविंद ने यहां नालंदा विश्वविद्यालय में आयोजित तीन दिवसीय अंतरराष्ट्रीय‘धर्म-धम्म’ सम्मेलन का उद्घाटन करते हुए कहा कि भारत का एक्ट ईस्ट पॉलिसी एक राजनयिक पहल से कहीं ज्यादा है।

यह सिर्फ बड़े व्यापार और निवेश पर लक्षित नहीं है बल्कि भारत और उसके सभी साथी देशों की समृद्धि और कल्याण के लिए बेहद महत्वपूर्ण है। उन्होंने कहा कि एक्ट ईस्ट पॉलिसी का उद्देश्य केवल आर्थिक अवसरों को साझा करना नहीं है बल्कि भारत और दक्षिण पूर्व एशिया में रहने वाले करोड़ों लोगों की उम्मीदों और सपनों को जोडऩा है।

राष्ट्रपति ने कहा कि दक्षिण पूर्व एशिया के इतिहास का मूल एक ही है और इसका भविष्य भी आपस में जुड़ा हुआ है। यह अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन और नया नालंदा विश्वविद्यालय उस भावना का प्रतीक है जिसे हम साझा करते हैं। उन्होंने कहा कि हमारे आर्थिक और कूटनीतिक प्रयासों को उसी अच्छी सोच से आकर्षित करना चाहिए।
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.