नोटबंदी और जीएसटी के कारण काम धंधे ठप हुए - गांधी

Samachar Jagat | Thursday, 09 May 2019 11:30:53 AM
The work was stalled due to demonetisation and GST

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

ग्वालियर। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यकाल में नोटबंदी और जीएसटी के कारण न सिर्फ उद्योग धंधे और व्यापार चौपट हुए, बल्कि इस दौरान बेरोजगारी भी बढ़ी। गांधी ने शाम को यहां कांग्रेस प्रत्याशी अशोक भसह के समर्थन में चुनावी सभा को संबोधित किया। इस अवसर पर मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ भी मौजूद थे। 

गांधी ने मोदी पर अपने हमले जारी रखते हुए कहा कि देश में युवा बेरोजगार है। किसान कर्ज के कारण आत्महत्या कर रहा है। अन्य समस्याएं भी हैं, लेकिन मोदी सिर्फ मन की बात करते हैं। उन्होंने आम लोगों से कोई मतलब नहीं है। उन्होंने कहा कि मोदी कभी अच्छे दिन लाने की बात करते थे। बाद में वे कांग्रेस मुक्त भारत की बात करने लगे और अब अपने भाषणों में राष्ट्र भक्ति पर उतर आए हैं। उन्होंने कहा कि भारत कांग्रेस मुक्त तो नहीं हुआ, बल्कि मध्यप्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ राज्यों में भी कांग्रेस की सरकारें काबिज हो गयीं। 

गांधी ने कहा कि ग्वालियर में कभी औद्योगिक प्रक्षेत्र हुआ करता था। कई कारखाने यहां थे। लेकिन भाजपा के पंद्रह सालों के मध्यप्रदेश में शासन के दौरान ये भी बंद हो गए और इस अंचल के लोगों में बेरोजगारी भी बढ़ी। उन्होंने कहा कि राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद किसानों के कर्जा माफ होना शुरू हो गए। पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान इस बात को मानते नहीं थे, लेकिन उनके ही भाई रोहित सिंह भी कर्जा माफी वाली सूची में शामिल हैं। गांधी ने कमलनाथ से कहा कि वे राज्य के चर्चित व्यापमं मामले में भी जांच कराएं।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा कि उन्होंने सरकार में आने के बाद से अपने किये गये वायदों को पूरा करना शुरू कर दिया है। 21 लाख किसानों का कर्जा माफ कर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्हें चौहान से कोई सर्टिफिकेट नहीं चाहिए। वे किसानों से ही सर्टिफिकेट ले लेंगे। कमलनाथ ने कहा कि मध्यप्रदेश में भाजपा की विदायी हो गयी है और आने वाले दिनों केंद्र से भी भाजपा की विदायी हो जाएगी। एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.