इंग्लैंड ने भारतीय महिला हॉकी टीम को हराया 

Samachar Jagat | Saturday, 14 Apr 2018 03:01:48 PM
England beat Indian women hockey team

गोल्ड कोस्ट। भारतीय महिला हॉकी टीम राष्ट्रमंडल खेलों के कांस्य पदक के मुकाबले में इंग्लैंड से 0-6 से मिली शर्मनाक हार के बाद चौथे स्थान पर रही। भारतीय टीम पांच में से एक भी पेनल्टी कॉर्नर नहीं भुना सकी।

आखिरी क्वार्टर में भारत का डिफेंस बुरी तरह चरमरा गया और तीन गोल गंवा दिए। पूल चरण में भारत ने इंग्लैंड को 2-1 से हराया था, लेकिन आज उस प्रदर्शन को नहीं दोहरा सके।

भारतीय महिला हॉकी टीम लगातार तीसरी बार राष्ट्रमंडल खेलों से खाली हाथ लौटेगी। आखिरी बार उसने 2006 में मेलबर्न में रजत पदक जीता था। सोफी ग्रे ने इंग्लैंड के लिए तीन फील्ड गोल किए जबकि लौरा उंसवर्थ, होली पीयर्न वेब और कप्तान अलेक्जेंड्रा डेनसन ने एक-एक गोल किया।

भारतीय कप्तान रानी रामपाल ने कहा कि हमें खुद पर पूरा भरोसा था कि हम जीतेंगे । हमने उन्हें जीत उपहार में दे दी।
लंदन में विश्व कप से पहले इस टूर्नामेंट से क्या सबक लिया, यह पूछने पर उन्होंने कहा कि हमें इंग्लैंड से ही पहला मैच खेलना है और उस पर मेहनत करनी होगी। इस तरह से आसान गोल नहीं दे सकते। 

भारत को आठवें मिनट में नवनीत कौर ने पहला पेनल्टी कॉर्नर दिलाया। वंदना कटारिया इस प्रयास में चोटिल हो गई जब रिबाउंड पर गुरजीत कौर की हिट उनके माथे पर लगी। वंदना को मैदान छोडक़र जाना पड़ा। भारत को मिला दूसरा पेनल्टी कॉर्नर भी बेकार गया।

इंग्लैंड की कप्तान डेनसन ने टीम को तीन मिनट बाद पेनल्टी कॉर्नर दिलाया, लेकिन सविता ने इस पर गोल नहीं होने दिया। दूसरे क्वार्टर में दोनों टीमों ने एक-दूसरे को आजमाया। इस बीच होली पीयर्न ने पेनल्टी कॉर्नर पर गोल करके इंग्लैंड को बढ़त दिला दी।
वंदना पट्टी बांधकर मैदान पर उतरी और भारत को लगातार तीन पेनल्टी कॉर्नर दिलाए। इनमें से एक को भी इंग्लैंड की गोलकीपर मेडेलीन हिंच ने गोल में बदलने नहीं दिया।

इंग्लैंड को जल्दी ही तीसरा पेनल्टी कॉर्नर मिला, लेकिन हन्नाह मार्टिन इस पर गोल नहीं कर सकी। तीसरे क्वार्टर में दो मिनट बाकी रहते सोफी ने रिवर्स हिट पर गोल करके इंग्लैंड की बढत दुगुनी कर दी। आखिरी क्वार्टर में इंग्लैंड ने चार गोल दागे। 
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.