जिम्बाब्वे की 17 वर्ष बाद विदेश में पहली टेस्ट जीत

Samachar Jagat | Tuesday, 06 Nov 2018 05:07:23 PM
Zimbabwe first Test win abroad after 17 years

सिलहट। ब्रैंडन मावुता और सिकंदर रज़ा के 7 विकेटों की बदौलत जिम्बाब्वे ने मंगलवार को बंगलादेश को यहां 151 रन से हराकर 5 साल बाद जाकर पहली बार टेस्ट जीत का स्वाद चखा, साथ ही विदेशी जमीन पर 17 वर्षों के लंबे इंतजार के बाद टेस्ट जीतने का सूखा भी समाप्त कर दिया।

पदार्पण खिलाड़ी लेग स्पिनर मावूता ने 21 रन पर 4 विकेट और ऑफ स्पिनर रज़ा ने 41 रन पर 3 विकेट लेकर मेजबान बंगलादेश की दूसरी पारी को पहले मैच के चौथे ही दिन निपटा दिया। अन्य पदार्पण खिलाड़ी वेलिगटन मस्काद्जा ने भी दो विकेट निकाले।

बंगलादेश की टीम को 321 रन के लक्ष्य का सामना करना था लेकिन जिम्बाब्वे की गेंदबाजी के सामने टीम 63.1 ओवर में 169 रन पर सिमट गई। लेफ्ट आर्म स्पिनर मस्काद्जा ने बंगलादेश की पारी का आखिरी विकेट लिया और आरीफुल हक (38) को आउट कर जिम्बाब्वे को पांच वर्ष बाद उसकी पहली टेस्ट जीत दिला दी।

आखिरी बार हरारे में जिम्बाब्वे ने 2013 में पाकिस्तान को हराया था। यह जिम्बाब्वे की विदेशी जमीन पर 17 वर्षों में पहली टेस्ट जीत भी है। आखिरी बार 2001 में चटगांव में उसने बंगलादेश को हराया था। मैच में रज़ा ने ओपनिग सत्र में ही बंगलादेश के तीन विकेट निकाल लिये थे जबकि काइल जारविस और मावुता ने एक एक विकेट लेकर लंच ब्रेक तक 111 रन पर ही मेजबान टीम के 5 विकेट उड़ा दिए।

बंगलादेश ने जब वापिस पारी की शुरूआत की और जल्द ही एक और विकेट गंवा दिया। मैच के तीसरे दिन खराब रौशनी के कारण समय की बर्बादी के कारण चौथे दिन मैच को सुबह आधे घंटे पहले शुरू किया गया था। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.