छठ पूजा के मुद्दे पर AAP और BJP के बीच वाकयुद्ध

Samachar Jagat | Thursday, 19 Nov 2020 10:00:02 AM
A war of words between AAP and BJP on the issue of Chhath Puja

नयी दिल्ली। दिल्ली में आप और भाजपा के बीच बुधवार को छठ पूजा को लेकर वाकयुद्ध हुआ। भाजपा नेता मनोज तिवारी ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविद केजरीवाल को सार्वजनिक स्थलों पर छठ पूजा पर रोक लगाने के लिए ''नमकहराम’’ कहा।

तिवारी ने एक ट्वीट में केजरीवाल पर निशाना साधते हुए कहा कि शहर में 24 घंटे शराब परोसने की अनुमति दी गई लेकिन कोविड-19 दिशानिर्देशों के साथ भी छठ की अनुमति नहीं दी गई।

सांसद एवं दिल्ली भाजपा के पूर्व प्रमुख तिवारी ने सार्वजनिक स्थानों पर छठ पूजा पर रोक को लेकर मुख्यमंत्री को ''नमकहराम’’ कहा, जिसके जवाब में आप नेता दुर्गेश पाठक ने कहा कि भाजपा शासित गुजरात और हरियाणा में भी पूजा पर रोक लगायी गई है और उन्होंने इन राज्यों को लेकर चुप्पी पर तिवारी से सवाल किया।

तिवारी ने कहा, ''केजरीवाल एक ऐसे 'नमकहराम’ मुख्यमंत्री हैं। वह कोविड​​-19 सावधानियों का पालन करते हुए भी छठ की अनुमति नहीं देते हैं और इस पर केंद्र के दिशानिर्देश लेने का नाटक करते हैं। हमें बताएं कि चौबीस घंटे शराब परोसने में किन दिशानिर्देशों का पालन किया गया।’’

उन्होंने कहा, ''दिल्ली में छठ पूजा पर पूर्ण रोक अरविद केजरीवाल सरकार का एक पूर्वांचल विरोधी कदम है। केजरीवाल को उत्तर प्रदेश सरकार से सीखना चाहिए, जिसने रोक नहीं लगायी, बल्कि लोगों से अनुरोध किया।’’

गुजरात, उत्तर प्रदेश और हरियाणा के उदाहरणों का हवाला देते हुए पाठक ने ट्वीट किया, ''मनोज तिवारी, क्या योगी, खट्टर और विजय रूपाणी को भी ''नमकहराम’’ कहा जाएगा? शर्म की बात है कि ऐसे शब्दों का इस्तेमाल एक सांसद द्बारा किया जा रहा है’’
आप के राज्यसभा सांसद संजय सिह ने एक ट्वीट में कहा, ''आप तब चुप रहते हैं जब पूर्वांचलियों को भाजपा शासित राज्यों में पीटा जाता है, लेकिन छठ पूजा पर आप ओछी राजनीति कर रहे हैं।

गुजरात, उत्तर प्रदेश और हरियाणा में पूजा पर रोक लगायी गई है। दिल्ली में गृह मंत्री अमित शाह ने इस पर रोक लगायी है। आप उनसे अनुमति लीजिये। मैं अरविद केजरीवाल से बात करूंगा।’’ (एजेंसी)   



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.