Digi Yatra : अब एयरपोर्ट पर होगी पेपरलेस एंट्री , जानें डिटेल्स

Samachar Jagat | Thursday, 01 Dec 2022 02:43:44 PM
Digi Yatra: Now there will be paperless entry at the airport, know details

1 दिसंबर से सरकार हवाई यात्रा को परेशानी मुक्त और कागज रहित बनाने के लिए "डिजी यात्रा" शुरू करेगी। नागरिक उड्डयन मंत्रालय के अनुसार, पहला चरण दिल्ली, बेंगलुरु और वाराणसी में शुरू होगा। डिजी यात्रा शुरू होने के बाद यात्रियों को अपना पहचान पत्र और बोर्डिंग पास ले जाने की जरूरत नहीं होगी।

एयरपोर्ट एंट्री के लिए फेशियल रिकग्निशन सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करेगा। अगले वर्ष मार्च में विजयवाड़ा, हैदराबाद, पुणे और कोलकाता सहित चार शहरों में दूसरा चरण शुरू होगा। इसके अतिरिक्त, इसे तीसरे चरण में देश भर में अपनाए जाने की उम्मीद है।

डिजी यात्रा क्या है?

डिजी यात्रा एक लागत प्रभावी, वितरित मोबाइल वॉलेट-आधारित पहचान मंच प्रदान करती है जो प्राइवेसी और डेटा सिक्योरिटी चिंताओं को संबोधित करती है। Digi Yatra Foundation (DYF), एक अखिल भारतीय संस्था और यात्री आईडी सत्यापन प्रक्रिया का संरक्षक, इस प्रयास के लिए जिम्मेदार होगा।
 
भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के पास DYF में 26% शेयर हैं, जिसे 2019 में कंपनी अधिनियम, 2013 की धारा 8 के तहत एक साझेदारी के रूप में स्थापित किया गया था। शेष 74% शेयर बेंगलुरु, दिल्ली में प्राइवेट एयरपोर्ट के ऑपरेटरों के पास होंगे। , हैदराबाद, मुंबई और कोच्चि।

डिजी यात्रा प्लेटफॉर्म पर रेसिस्टर कैसे करें? जानिए स्टेप बाय स्टेप गाइड

ऑफिशियल वेबसाइट India.gov.in के मुताबिक, डिजी यात्रा हवाई यात्रियों की यात्रा को पूरी तरह से डिजिटल इंटरफेस से जोड़ेगी। यात्रियों को इसके लिए डिजी यात्रा प्लेटफॉर्म पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। उसके बाद, उनके पास सभी एयरपोर्ट चेकपॉइंट्स पर डिजिटल एक्सेस के लिए फेशियल रिकग्निशन टेक्नोलॉजी होगी, जिसमें एंट्री पॉइंट चेक, सिक्योरिटी चेक एंट्री और एयरप्लेन बोर्डिंग शामिल है।

इसके साथ ही सेल्फ बैग ड्रॉप और चेक-इन भी इसी तरीके से किया जाएगा। परिणामस्वरूप पूरी यात्रा पेपरलेस होगी, और यात्रियों को बार-बार अपनी पहचान प्रमाण-पत्र प्रदान करने की जरूरत नहीं होगी।



 

Copyright @ 2023 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.