इंडोनेशिया: भूकंप के जोरदार झटकों से हिली धरती, 6.0 मापी गई तीव्रता

Samachar Jagat | Tuesday, 19 Apr 2022 08:43:16 AM
Earthquake / 6.0 magnitude earthquake shakes Indonesia, no casualties reported

भूकंप ने हिलाया इंडोनेशिया रिक्टर पैमाने पर 6.0 तीव्रता मापी गई है।

  • इंडोनेशिया में महसूस किए गए भूकंप के झटके
  •  रिक्टर पैमाने पर 6.0 तीव्रता का भूकंप
  • अभी तक किसी के हताहत होने की सूचना नहीं है

इंडोनेशिया में मंगलवार को भूकंप के झटके महसूस किए गए। भूकंप इतना जोरदार था कि कहा जा रहा है कि रिक्टर पैमाने पर 6.0 तीव्रता का भूकंप दर्ज किया गया। बताया जाता है कि भूकंप सुबह 6.53 बजे महसूस किया गया। एनसीएस ने कहा कि भूकंप का केंद्र सुलावेसी से 779 किलोमीटर दूर बताया गया।

एजेंसी के मुताबिक, भूकंप से अब तक किसी नुकसान की खबर नहीं है। भूकंप के समय लोग अपने घरों में सो रहे थे, लेकिन भूकंप के साथ ही लोग अपने घरों से बाहर निकल आए। घबराए लोग अपने रिश्तेदारों की देखभाल करते दिखे।

भूकंप का केंद्र प्रशांत महासागर तल के नीचे बताया गया था, हालांकि सुनामी की कोई चेतावनी जारी नहीं की गई थी

भूकंप का केंद्र पिछले महीने ताइवान की राजधानी ताइपे के नीचे दर्ज किया गया था। भूकंप का केंद्र राजधानी ताइपे से 182 किलोमीटर दक्षिण में बताया गया। भूकंप की तीव्रता रिक्टर पैमाने पर 6.7 मापी गई।

भूकंप का केंद्र प्रशांत महासागर के तल के नीचे बताया गया था, हालांकि सुनामी की कोई चेतावनी जारी नहीं की गई थी। भूकंप में कम से कम दो लोगों की मौत हो गई और 88 अन्य घायल हो गए। भूकंप की भयावहता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि वहां एक बुलेट ट्रेन पटरी से उतर गई। जापान मौसम विज्ञान एजेंसी ने सुनामी की चेतावनी जारी की है।

भूकंप आने पर क्या करें?

  • बिना भूकंप आए तुरंत ऑफिस या घर से बाहर निकलें।
  • बिजली के तोरणों, पेड़ों और ऊंची इमारतों से दूर रहें।
  • घर या ऑफिस से बाहर जाते समय लिफ्ट का प्रयोग न करें, सीढ़ियों का प्रयोग करें।
  • अगर घर के आसपास जमीन न हो तो छिपने के लिए जगह तलाशें।
  • भारी वस्तुओं से दूर रहें, खासकर घर पर, जब भूकंप आए।
  • घर में भारी सामान और शीशे से दूर रहें ताकि चोट लगने की कोई संभावना न रहे।
  • यदि आपके पास दौड़ने का समय नहीं है, तो मेज, बिस्तर, डेस्क जैसी मजबूत जगह के नीचे बैठें।
  • जहां दरवाजा हो वहां खड़े न हों ताकि दरवाजा न खुले और न गिरे।
  • भूकंप विज्ञान विभाग से सांत्वना



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.