दक्षिण यूक्रेन में पूर्ण कब्जे की फिराक में है रूसी सेना

Samachar Jagat | Saturday, 23 Apr 2022 01:01:19 PM
Russian army is looking for complete occupation in southern Ukraine

कीव। रूस के एक वरिष्ठ सैन्य अधिकारी ने कहा है कि देश की सेना दक्षिणी यूक्रेन और पूर्वी डोनबास क्षेत्र पर पूर्ण कब्जे की तैयारी कर रही है। बीबीसी ने रूस के मेजर जनरल रुस्तम मिनेकेयेव के हवाले से शनिवार को यह जानकारी दी।


मेजर जनरल मिनेकेयेव ने कहा कि यदि रूस इसमें कामयाब हो जाता है तो देश क्रीमिया के लिए एक भूमि पुल तैयार कर सकेगा, जिसपर उसने 2014 में कब्जा कर लिया था और मोल्दोवा में रूस-समर्थित ट्रांसनिस्टि्रया क्षेत्र को प्रवेश मार्ग भी प्रदान किया था।


रूसी भाषी ट्रांसनिस्टि्रया पश्चिम से यूक्रेन की सीमा से लगा हुआ है। सोवियत संघ के पतन के बाद इसने स्वतंत्रता का दावा किया, लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसे मान्यता नहीं मिली इसलिए यह आधिकारिक तौर पर मोल्दोवा का हिस्सा बना हुआ है।


लगभग 1,500 रूसी सैनिकों की एक छोटी टुकड़ी वर्ष 1995 से इस क्षेत्र में एक संघर्ष विराम समझौते के तहत तैनात की गई है। यह स्पष्ट नहीं है कि मेजर जनरल मिनेकेयेव की टिप्पणियों को क्रेमलिन द्बारा आधिकारिक तौर पर मंजूरी दी गई थी, लेकिन इंटरफैक्स और टास समाचार एजेंसियों सहित रूसी मीडिया में उनका व्यापक रूप से जिक्र किया गया है।


इस बीच, यूरोपीय संघ के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि उनका मानना ????है कि रूस आने वाले दिनों में पूर्वी यूक्रेन और दक्षिणी तट पर अपने हमले तेज कर सकता है। उन्होंने कहा कि अगले दो सप्ताह युद्ध के लिए निर्णायक हो सकते हैं। इस बीच मोल्दोवा ने जनरल मिनेकेयेव की टिप्पणियों को बेहद चिताजनक बताते हुए रूसी राजदूत को तलब किया है। 



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.