Health Tips : अगर आप भी है अस्थमा का शिकार तो अपने आहार में शामिल करे ये चीजे

Samachar Jagat | Wednesday, 04 May 2022 03:38:03 PM
Health Tips : If you are also a victim of asthma then include these things in your diet

  कुछ हद तक यह माना जाता है कि हम जो खाते हैं वह अस्थमा के लक्षणों के लिए जिम्मेदार होता है।  जो लोग विटामिन सी और ई, बीटा-कैरोटीन, फ्लेवोनोइड्स, मैग्नीशियम, सेलेनियम और ओमेगा -3 फैटी एसिड से भरपूर आहार लेते हैं  उन्हें अस्थमा होने का खतरा कम होता है। ये फ़ूड प्रोडक्ट एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होते हैं जो कोशिका क्षति से बचाने में मदद करते हैं  

यदि आप अस्थमा को रोकना चाहते हैं या इसके लक्षणों को कम करना चाहते हैं, तो  आपको इन फ़ूड प्रोडक्ट सेवन करना चाहिए 

खूब फल और सब्जियां शामिल करें


फलों और सब्जियों को एंटीऑक्सीडेंट का अच्छा स्रोत कहा जाता है। कीवी, स्ट्रॉबेरी, टमाटर, ब्रोकली, शिमला मिर्च, संतरा और अंगूर जैसे फल और सब्जियां एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर मानी जाती हैं। ये फेफड़ों में सूजन  को कम करने में मदद करती हैं।  

विटामिन डी लें

जिन लोगों के शरीर में विटामिन डी की कमी होती है उन्हें अस्थमा होने का खतरा अधिक होता है। इसलिए अपने आहार में विटामिन डी से भरपूर फ़ूड प्रोडक्ट  को शामिल करने की सलाह दी जाती है। विटामिन डी प्राप्त करने के लिए अपने आहार में दूध, अंडे और मछली को शामिल करें।

सल्फाइट्स को ना कहें


सल्फाइट्स का उपयोग कई फ़ूड प्रोडक्ट में प्रिजर्वेटिव  के रूप में किया जाता है। सल्फाइट कई लोगों में अस्थमा के लक्षणों को ट्रिगर करते हैं। इसलिए, शराब, सूखे मेवे, अचार और झींगा जैसे सल्फाइट्स से भरपूर भोजन से दूर रहने की सलाह दी जाती है।

 
नट्स  और सीड्स लें


 वजन घटाना हो या अस्थमा की रोकथाम, ये विटामिन ई से भरपूर फ़ूड प्रोडक्ट जादू की तरह काम करते हैं। ऐसा माना जाता है कि विटामिन ई में टोकोफेरोल नामक एक रासायनिक यौगिक होता है  जो अस्थमा के रोगियों में खांसी और घबराहट को कम करने में मदद करता है।



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.