Religious News: 300 किलो चांदी के गर्भगृह में विराजेंगे 'रणजीत हनुमान', जानिए इससे जुड़ी कुछ और खास बातें

Samachar Jagat | Wednesday, 30 Mar 2022 06:45:01 PM
'Ranjeet Hanuman' will sit in the sanctum sanctorum of 300 kg silver, know some more special things about it

इंदौर: मध्य प्रदेश के इंदौर शहर में लोकप्रिय रंजीत हनुमान मंदिर का गर्भगृह सुसज्जित होने जा रहा है. कहा जा रहा है कि 134 साल पुराने इस मंदिर में अब रंजीत सरकार 300 किलो चांदी के बने गर्भगृह में विराजमान होंगे. गर्भगृह की भीतरी और बाहरी दीवारों पर चांदी की स्थापना की जाएगी। वहीं इस गर्भगृह का द्वार भी चांदी का बनाया जाएगा। इतना ही नहीं, खास बात यह है कि ऊपर की छत भी चांदी के उपकरण से बनी होगी। खबर के मुताबिक नवरात्र के दूसरे दिन से मंदिर में काम शुरू हो जाएगा. दरअसल, 3 अप्रैल को अभिजीत मुहूर्त निकला है। जिसमें यह काम किया जाएगा।

इस काम में करीब 300 किलो चांदी का इस्तेमाल होगा। इस मंदिर के काम के लिए राजस्थान के शिल्पकार चांदी पर नक्काशी का काम करने जा रहे हैं। कहा जा रहा है कि 134 साल पुराने इस मंदिर को लेकर भक्तों में काफी आस्था है। ऐसे में चांदी से बनने के बाद इस मंदिर का नजारा कुछ और ही होने वाला है. मुख्य पुजारी पं. मंदिर को लेकर दीपेश व्यास 3 अप्रैल को सुबह 11.30 बजे से 12.30 बजे तक इस निर्माण कार्य की शुरुआत करेंगे. ऐसे में इस निर्माण में पहले दीवार पर सागौन की लकड़ी की पट्टी लगाई जाएगी, उसके बाद उस पर चांदी की परत चढ़ा दी जाएगी। गर्भगृह की छत पर चांदी से बना हनुमान यंत्र या श्री राम यंत्र स्थापित किया जाएगा।


 
मंदिर के बारे में कुछ खास बातें:-

मंदिर 134 साल पुराना है।
इसमें 300 किलो से ज्यादा चांदी का इस्तेमाल होगा।
अभिजीत मुहूर्त में 3 अप्रैल से काम शुरू होगा।
गर्भगृह के द्वार में 85 किलो चांदी रखी जा सकती है।
गर्भगृह 10 फीट गहरा, 10 फीट चौड़ा और 15 फीट ऊंचा है।
गर्भगृह के द्वार की ऊंचाई 15 फीट होगी।
मंदिर के पास सिर्फ 40 किलो चांदी मौजूद है।
250 क्यूबिक फीट सागौन की लकड़ी का उपयोग किया जाएगा।
निर्माण कार्य 1 वर्ष से अधिक समय में पूरा किया जाएगा।
गर्भगृह के अंदर और बाहर चांदी का लेप लगाया जाएगा।



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.