टूर एंड ट्रेवल एजेंटों और रेस्त्रां संचालकों को सरलता से ऑनलाइन मिल रहा ऋण

Samachar Jagat | Tuesday, 04 Sep 2018 03:15:51 PM
Tour and travel agents and restaurant operators easily get online loans

नई दिल्ली। अब तक वित्त की उपलब्धता से दूर रहने वाले टूर एंड ट्रेवल एजेंटो, रेस्त्रां संचालकों सहित विभिन्न तरह के छोटे हुए मझोले कारोबारियों को प्रौद्योगिकी आधारित ऑनलाइन फाइनेंशिग प्लेटफॉर्म इंडिफी सरलता से ऋण उपलब्ध करा रही है। अब तक पांच हजार से अधिक कारोबारी इसका लाभ उठा चुके हैं। कंपनी के अध्यक्ष राणा विक्रम आनंद ने यह जानकारी देते हुए कहा कि, कई विदेशी और भारतीय बैंकों में उच्च पदों पर काम करने के दौरान उन्हें यह महसूस हुआ कि छोटे छोटे कारोबारियों को अपने व्यापार के संचालन के लिए ऋण लेने में काफी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।

इसके मद्देनजर उन्होंने प्रौद्योगिकी का उपयोग कर एक ऐसे प्लेटफार्म विकसित करने का विचार आया जहां इन कारोबारियों को सरलता से ऋण मिल सके और ऋण अदाएगी आसानी से हो सके। उन्होंने कहा कि इसी को ध्यान में रखते हुए इंडिफी प्लेटफार्म तैयार किया गया और अब तक 5000 से अधिक छोटे और मंझोले कारोबारी इसके ज़रिए ऋण का लाभ उठा चुके हैं। उनकी कंपनी विशेष उद्योगों से जुड़े कारोबारियों की ज़रूरतों को ध्यान में रख कर 50 हजार से लेकर 50 लाख रुपए तक के ऋण उपलब्ध कराती है। अब तक उनकी कंपनी टूर एंड ट्रेवल, रेस्त्रां, होटल, ई कॉमर्स सेलर, दवा दुकानदारों, मनी ट्रांसफर वितरकों, रेडिमेट वस्त्रों के दुकानदारों और अन्य खुदरा दुकानदारों को ऋण उपलब्ध करा रही है।

आनंद ने कहा कि इसके लिए इस क्षेत्र में काम करने वाली बड़ी कंपनियों से उनकी कंपनी ने करार किए हैं। उन्होंने उदारहण देते हुए बताया कि जो रेस्त्रां ऑनलाइन प्लेटफार्म के जरिए कारोबार कर रहे हैं, उनको उसके ऑनलाइन कारोबार के आधार बिना किसी ज़मानत के पर ऋण दिया जाता है। इसके लिए इंडिफी ने जोमैटो, स्विगी, फूडपांड जैसे प्लेटफार्म से करार किया है। इसी तरह से टूर एंड ट्रेवल क्षेत्र के दिग्गज ऑनलाइन प्लेटफार्मों से भी करार किया गया है। ऑनलाइन मार्केटप्लेस/इ-कॉमर्स कंपनियों के साथ करार कर उनके सेलरों को ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि ऑनलाइन होटल बुकिंग प्लेटफार्म से जुड़े होटलों को भी कारोबार में सुधार और विस्तार के लिए ऋण दिया जाता है। उन्होंने कहा कि मनी ट्रांसफर कारोबार भी तेजी से बढ़ा है और इसके मद्देनजर उसके वितरकों को संचालन पूंजी के लिए ऋण उपलब्ध कराया जाता है। आंनद ने बताया कि इसके लिए उनकी कंपनी ने कई बैंकों और गैर बैंकिग फाइनेंस कंपनियों से भी करार किए हैं जो कारोबारियों वित्त उपलब्ध कराते हैं। उन्होंने कहा कि सितंबर 2018 में एक हजार से अधिक कारोबारियों को ऋण उपलब्ध कराने का लक्ष्य रखा गया है। उनकी कंपनी अपने साझेदार ऑनलाइन प्लेटफार्मों से जुड़े कारोबारियों के साथ-साथ ही छोटे और मँझोले कारोबारियों को भी सरल ऑनलाइन आवदेन की सुविधा के माध्यम से ऋण उपलब्ध कराती है।- एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.