बारात लेकर गया था दूसरी शादी करने पर लौटना पड़ा पहली बीबी और बच्चों के साथ

Samachar Jagat | Thursday, 07 Dec 2017 04:08:22 PM
Muslim man second marriage stop by police in Saharanpur

सहारनपुर।  उत्तर प्रदेश के सहारनपुर जिले में महिला सशक्तिकरण के लिए चल रहे पुलिस अभियान का लाभ एक मुस्लिम वैवाहिक महिला को मिला जब पुलिस के हस्तक्षेप से दूसरा ब्याह रचाने जा रहे उसके शौहर को न सिर्फ बारात लौटानी पड़ी बल्कि विवाह की हसरत छोड़ पत्नी का ताउम्र साथ निभाने की कसम खानी पड़ी।

जल्द पैसा कमाने के लालच में एक नाबालिग बन बैठा हत्यारा

दरअसल, शामली जिले के अजीजपुर गांव निवासी इनसार की पत्नी नसरीन से अनबन रहती थी जिसके चलते नसरीन पिछले एक साल से बच्चों के साथ कोतवाली थाना भवन के अम्बेहटा गांव स्थित मायके में रह रही थी। कल रात इनसार गाजे बाजे के साथ दूसरा ब्याह रचाने बडग़ांव के लूनाबड़ी गांव पहुंचा जिसकी भनक नसरीन को लग गई और शादी रूकवाने के लिए उसने पुलिस की शरण ली।

पारिवारिक विवाद में युवक की बेरहमी से गला रेतकर हत्या

पीडि़त विवाहिता ने पुलिस को बताया कि उसका पति लूनाबड़ी में कामिल के यहां बारात लेकर आया है और उसकी बेटी शबाना के साथ निकाह करने वाला है। महिला की बात सुनने के बाद पुलिस हरकत में आई और बिना तलाक दिए दूसरा निकाह करने वाले इनसार को हिरासत में ले लिया। इस घटनाक्रम को देखते हुए बाराती गांव से भाग गए और कामिल ने भी अपनी बेटी शबाना का निकाह करने से इनकार कर दिया।

जेल भी नहीं रहे सुरक्षित, पटना में जेल परिसर में कक्षपाल की गोली मारकर हत्या

पुलिस के समझाने बुझाने और कानूनी कार्रवाई का डर दिखाने पर इनसार अपनी पहली पत्नी और दो बच्चों को साथ लेकर अपने गांव अजीजपुर चला गया। पीडि़त महिला ने बडग़ांव पुलिस का आभार जताया, कि उसका परिवार फिर से खुशहाल हो गया। एजेंसी



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2017 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.