लगभग 20 लाख साल पहले एशिया पहुंचे थे मानव

Samachar Jagat | Thursday, 12 Jul 2018 04:40:07 PM
Humans reached Asia about 20 million years ago

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

बीजिंग। पुरातत्व विज्ञानियों ने चीन में कुछ प्राचीन औजार और हड्डियां पाई हैं, जिनसे यह पता चलता है कि हमारे शुरूआती मानव पूर्वजों ने लगभग 20 लाख साल पहले अफ्रीका छोड़ दिया था और वे एशिया में बस गए। दक्षिणी चीन के लोएस पठार में सांगची स्थित चाइनीज एकेडमी ऑफ साइंसेज के प्रो . झाओयु झु के नेतृत्व वाली एक अध्ययन टीम ने इन औजारों को खोजा है।

जापान में वर्षाजनित घटनाओं में मृतकों की संख्या 200 हुई, कई लापता

सबसे पुराना औजार 21.2 लाख साल पुराना है और यह जॉर्जिया के दमानिसी से पाए गए 18.5 लाख साल पुराने अस्थित अवशेषों और पत्थर के औजारों से 270,000 साल पुराने हैं। अफ्रीका से बाहर जाॢजया में ही अब से पहले मानव बसावट का शुरूआती साक्ष्य पाया गया था।

'नेचर' जर्नल में प्रकाशित अध्ययन के मुताबिक, इन औजारों में खुरचनी, हथौड़ा पत्थर, नोंकदार पत्थर आदि शामिल हैं। ये सभी इस बारे में संकेत देते हैं कि पत्थरों को औजार की शक्ल में आकार दिया जाता था। इनमें से ज्यादातर क्वार्टजाइट और क्वार्टज के बने हैं जो संभवत : किनलिंग पर्वत के निचले हिस्से से लाए गए होंगे।

बढ़ती आबादी देश और दुनिया के लिए खतरा, हो रहा है पर्यावरण प्रदूषित

जंतुओं की 21.2 लाख साल पुरानी हड्डियां भी पाई गई हैं। अध्ययन में शामिल ब्रिटेन के एग्जेटर विश्वविद्यालय के प्रो . रोबिन डेनेल ने बताया कि उनकी खोज से इस बात को बल मिलता है कि शुरूआती मानवों के अफ्रीका छोडऩे के समय के बारे में अब पुनॢवचार करने की जरूरत है। गौरतलब है कि पत्थर से बने ये औजार जीवाश्मों में पाए गए हैं।- एजेंसी

जाधव मामले में पाकिस्तान अंतरराष्ट्रीय न्यायालय में 17 जुलाई को दाखिल करेगा दूसरा हलफनामा: रिपोर्ट

भारत वापस नहीं भेजने के लिए जाकिर नाईक ने मलेशिया के प्रधानमंत्री का शुक्रिया अदा किया

नाटो के सहयोगी देशों से रक्षा पर 4 फीसदी धनराशि खर्च करने का ट्रंप का आग्रह

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...


Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.