अयोध्या में लाखों श्रद्धालुओं ने सरयू में लगाई डुबकी

Samachar Jagat | Monday, 27 Aug 2018 01:55:40 PM
Millions of devotees bath in Saryu in Ayodhya

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

फैजाबाद। उत्तर प्रदेश में धार्मिक नगरी अयोध्या में भाई - बहन के प्यार का प्रतीक रक्षाबंधन के दिन पवित्र सरयू नदी में लाखों श्रद्धालुओं ने डुबकी लगाई और मंदिरों में पूजा-अर्चना की। मणिपर्वत मेले के साथ शुरू होने वाला यहां का प्रसिद्ध सावन झूला मेला महोत्सव करीब एक पखवाड़े तक चलने के बाद रक्षाबंधन के दिन समाप्त होता है। सावन मेले में आने वाले श्रद्धालु सावन की रिमझिम फुहारों के बीच घूम-घूमकर झूलों में विग्रहों को झुलाते हैं।

रावण ने यहां किया था भगवान शंकर पर गंगाजल अर्पित, सावन माह में लगती है भक्तों की भीड़

इस दौरान धार्मिक नगरी अयोध्या की छटा देखते ही बनती है। चारों ओर सावन में गाए जाने वाले लोकगीत कजरी की गूंज सुनाई देती है। पूरे सावन में मंदिरों में सुबह शाम भगवान राम के विग्रहों को झुलाए जाने की परंपरा है। मणिपर्वत पर पड़़ने वाले झूलों में विग्रहों के अलावा छोटे - छोटे बच्चों को भी राम - सीता के रूप में सजाकर झुलाया जाता है। इस प्रकार देश के विभिन्न अंचलों से कई लाख श्रद्धालु अयोध्या आते हैं और मंदिरों में जाकर भगवान राम को रिझाने के लिए सावन के गीत गाते हुए नाचते हैं।

जानिए! घर में बने मकड़ी के जालों को वास्तुशास्त्र में शुभ माना जाता है या अशुभ

सखी समुदाय के लोग मनमोहक पोशाक पहनकर सोलह श्रृंगार करते हैं। अयोध्या में तेरह दिन तक चलने वाले सावन मेले की व्यवस्था में जिला प्रशासन ने आने - जाने वाले लोगों पर कड़ी नजर रखी। अपर जिलाधिकारी / मेलाधिकारी विध्येश्वरी राय ने बताया कि सरयू नदी में करीब पन्द्रह लाख श्रद्धालुओं ने डुबकी लगाकर मंदिरों में दर्शन किया। -एजेंसी

भगवान शिव के भी परमप्रिय सेवक हैं धन के देवता कुबेर, प्रसन्न करने के लिए करें इस मंत्र का जाप

अगर आपके घर में है किसी की शादी तो बिना पंड़ित के पास जाए इस तरीके से निकालें विवाह का मुहूर्त

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures


 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.