राष्ट्रपति कोविद 2-9 सितंबर तक करेंगे साइप्रस, बुल्गारिया, चेक गणतंत्र की यात्रा

Samachar Jagat | Friday, 31 Aug 2018 07:44:34 PM
President Kovid will travel to Cyprus, Bulgaria, Czech Republic by September 2-9

नई दिल्ली। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 2 से 9 सितंबर के बीच साइप्रस, बुल्गारिया और चेक गणतंत्र की यात्रा करेंगे। इस दौरान वे इन तीनों यूरोपीय देशों के नेतृत्व से बातचीत करेंगे ताकि संबंधों को मजबूती दी जा सके, विशेषकर आर्थिक क्षेत्रों में। कोविंद 5 देशों की यात्रा का प्रारंभ साइप्रस से करेंगे।

घोटालों की विरासत के उत्तराधिकारी भूल गये हैं पांच दशकों का कुशासन :भाजपा

वे साइप्रस के राष्ट्रपति निकोस एन एनास्टासिएड्स के साथ विभिन्न मुद्दों पर बातचीत करेंगे जिसमें द्बिपक्षीय व्यापार बढ़ाने का मुद्दा शामिल है। विदेश मंत्रालय में सचिव (पश्चिम) रूचि घनश्याम ने ये जानकारी दी। कोविंद 2-4 सितंबर को अपनी साइप्रस यात्रा में उस देश की प्रतिनिधि सभा को सम्बोधित करेंगे।

साथ ही वे साइप्रस विश्वविद्यालय में व्याख्यान देंगे और भारतवंशियों को भी संबोधित करेंगे। इसके बाद वे 4-6 सितंबर तक बुल्गारिया की यात्रा करेंगे। घनश्याम ने बताया कि 2003 में तत्कालीन राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम के दौरे के बाद भारतीय राष्ट्रपति की ये पहली बुल्गारिया यात्रा है।

उन्होंने बताया कि 5 सितंबर को शिक्षक दिवस के अवसर पर राष्ट्रपति कोविद सोफिया विश्वविद्यालय में छात्रों को 'शिक्षा बदलाव का माध्यम और साझा उत्तरदायित्व’ विषय पर सम्बोधित करेंगे। घनश्याम ने बताया कि राष्ट्रपति की यात्रा के दौरान भारत-बुल्गारिया व्यापार मंच की बैठ होगी जिसमें कारोबार जगत के करीब 250 प्रतिनिधियों के हिस्सा लेने की उम्मीद है।

इस यात्रा के दौरान कोविद बुल्गारिया के राष्ट्रपति रूमेन रादेव से विभिन्न मुद्दों पर बातचीत करेंगे। यात्रा के तीसरे चरण में राष्ट्रपति कोविद चेक गणराज्य जाएंगे और वहां के राष्ट्रपति मिलो जेमन और प्रधानमंत्री अंद्रेज बाबीस और चेम्बर आफ डेप्यूटीज के अध्यक्ष रादेक वोंड्रासेक से मुलाकात करेंगे।

घनश्याम ने बताया कि राष्ट्रपति कोविद व्यापार मंच की बैठक में भी भाग लेंगे। इस कार्यक्रम के लिए 60 से अधिक भारतीय कंपनियों के प्रतिनिधि वहां जा रहे हैं। इस कार्यक्रम में करीब इतनी ही चेक कंपनियों के प्रतिनिधि हिस्सा लेंगे।

शिवसेना बोलीं, 'नाकाम’ नोटबंदी के लिए मोदी करेंगे कौन-सा प्रायश्चित

उन्होंने बताया कि राष्ट्रपति प्राग के चाल्र्स विश्वविद्यालय में भारतीयविदों के साथ भी परिसंवाद करेंगे। इस विश्वविद्यालय में 1850 से ही एक संस्कृत पीठ है। राष्ट्रपति के प्रेस सचिव अशोक गहलोत ने कहा कि वे इन तीनों देशों में काफी समृद्ध और महत्वपूर्ण कार्यक्रमों को लेकर उत्सुक हैं..तीनों देशों में होने वाली बातचीत एवं विचार विमर्श में व्यापार एक प्रमुख मुद्दा होगा।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.