स्वामी विवेकानंद जयंती: आज भी स्वामी जी के विचार संजीवनी की तरह करते हैं काम

Samachar Jagat | Saturday, 12 Jan 2019 01:54:24 PM
Swami Vivekanand Jayanti

आज स्वामी विवेकानंद की जयंती हैं, उनका जन्म 12 जनवरी, 1863 को कोलकाता में हुआ था। उनका पहले का नाम नरेंद्र नाथ था जो आगे चलकर स्वामी विवेकानंद के नाम से मशहूर हुए। उनके जन्म जयंती पर देश में राष्ट्रीय युवा दिवस मनाया जाता है। वेकानंद की जब भी बात होती है तो अमरीका के शिकागो की धर्म संसद में वर्ष 1893 में दिए गए भाषण की चर्चा जरूर होती है।

वे बचपन से ही आध्यात्मिकता की ओर झुके हुए थे। उनके गुरु रामकृष्ण देव थे। जिनसे वह काफी ज्यादा प्रभावित थे। जिनसे उन्होंने सीखा कि सारे जीव स्वयं परमात्मा का ही एक अवतार हैं। इसलिए मानव जाति की सेवा द्वारा परमात्मा की भी सेवा की जा सकती है। रामकृष्ण की मृत्यु के बाद विवेकानंद ने बड़े पैमाने पर भारतीय उपमहाद्वीप का दौरा किया। विश्व धर्म संसद 1893 में भारत का प्रतिनिधित्व करने, संयुक्त राज्य अमेरिका के लिए कूच की।

स्वामी जी ने अपने जीवन में अनेक ऐसे काम किए जिन्हें आज भी नहीं भुलाया जा सकता। उन्होंने युवा शक्ति को अपनी क्षमता को पहचानने और उसके सदुपयोग में लाने के लिए आहृान किया है। उनके विचारों से देश प्रेरित होता हैं। लोगों में निराशा के अंधकार से आशा की ओर लाने के लिए स्वामी विवेकानंद जी के विचार संजीवनी की तरह काम करते हैं। 

युवा दिवस पर हुआ सूर्य नमस्कार

भोपाल। स्वामी विवेकानंद के जन्म दिवस युवा दिवस पर शनिवार को प्रदेशभर में सूर्य नमस्कार का आयोजन किया गया। इस दिशा में भोपाल के सुभाष उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में आयोजित सूर्य नमस्कार में जनसंपर्क मंत्री पीसी शर्मा और स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रभुराम चौधरी शामिल हुए।

इंदौर में आयोजित हुए इस कार्यक्रम में स्वास्थ्य मंत्री तुलसी सिलावट और खेल एवं युवा कल्याण मंत्री जीतू पटवारी ने शामिल रहे। वहीं अनूपपुर जिला मुख्यालय के उत्कृष्ट विद्यालय मैदान पर युवा उत्सव दिवस पर कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर एवं पुलिस अधीक्षक तिलक सिंह सहित 1000 से अधिक विद्यार्थी, जनप्रतिनिधि, अधिकारीगण, गणमान्य नागरिकों ने हिस्सा लिया।

स्वामी विवेकानंद की जयंती युवा दिवस पर खरगोन, आगर मालवा जबलपुर, पन्ना, उमारिया, ग्वालियर, बड़वानी में आयोजित हुए सामूहिक सूर्य नमस्कार में विद्यार्थियों, जनप्रतिनिधियों, अधिकारीगण, गणमान्यजन नागरिकों ने बढ-चढ कर हिस्सा लिया।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.