मुजफ्फरनगर दंगों के दौरान लूटपाट करने के मामले में दो लोग बरी

Samachar Jagat | Wednesday, 14 Aug 2019 12:43:40 PM
Two people acquitted in looting case during Muzaffarnagar riots

मुजफ्फरनगर। मुजफ्फरनगर 2013 दंगों के दौरान लूटपाट के दो आरोपियों को यहां की एक अदालत ने बरी कर दिया। अदालत ने कहा कि अभियोजन पक्ष दोषी साबित करने के लिए सबूत उपलब्ध कराने में नाकाम रहा है।

अतिरिक्त जिला सत्र न्यायाधीश पूनम राजपूत ने मंगलवार को सबूतों के अभाव में विनोद और जीतेन्द्र को बरी कर दिया। राजपूत ने कहा कि अभियाजन पक्ष उन्हें दोषी साबित नहीं कर पाया।

अभियोजन पक्ष ने कहा कि दंगा पीड़ित हाशिम ने कई लोगों के खिलाफ फुगाना गांव स्थित उसके घर में दंगों के दौरान आठ सितम्बर 2013 को लूटपाट करने की शिकायत दर्ज कराई थी।

दंगों के मामलों की जांच कर रहे विशेष जांच दल (एसआईटी) ने भादंवि की धारा 395 के तहत दोनों के खिलाफ आरोपपत्र दायर किया था।

अभियोजन पक्ष के अनुसार इसके साथ ही मुजफ्फरनगर दंगों से संबंधित पांच सामूहिक दुष्कर्म सहित 43 मामलों पर सुनवाई पूरी हो चुकी है और अभी तक 358 लोग बरी हुए हैं।

पुलिस ने दंगों के संबंध में 510 मामले दर्ज कर 1480 लोगों को गिरफ्तार किया था।

वहीं एसआईटी ने जांच के बाद  175 मामलों में आरोपपत्र दायर किया था।-(एजेंसी)

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
रिलेटेड न्यूज़
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.