13 या 14 कब से शुरू हो रहे हैं श्राद्ध? आइएं जानते है। 

Samachar Jagat | Friday, 13 Sep 2019 01:29:01 PM
When will 13 or 14 begin the Shraddha? Let's know


इंटरनेट डेस्क। श्राद्ध पक्ष शुरू होने की तिथि को लेकर अभी तक कई लोग असमंजस स्थिति बनी हुई है। कुछ लोगों का मानना हैं कि श्राद्ध 13 सितंबर पूर्णिमा तिथी से शुरू हो रहे हैं, जबकि कुछ का कहना है कि श्राद्ध शुरू होने की सही तारीख 14 सितंबर पड़वा तिथी से प्रारंभ है। अनंत चतुर्दशी के बाद पूर्णिमा आती है जो कि आज है और आज यानी 13 सितंबर से ही श्राद्ध शुरू हो चुके हैं। प्रतिपदा की तिथि 14 सितंबर है। इन दिनों में पितृरों को पिण्ड दान और तिलांजलि कर उन्हें संतुष्ट किया जाता है। श्राद्ध के इन 16 दिनों में लोग अपने पितरों को जल देते हैं और उनकी मृत्यु तिथि पर श्राद्ध करते हैं। 


loading...


1. पंचमी श्राद्ध- जिन लोगों की मृत्यु पंचमी तिथि को हुई हो या जो कुंवारे ही मृत्यु की गोद में समा गए हों पंचमी पर उनका श्राद्ध किया जाता है। इस बार यह श्राद्ध 18 तारीख को है।
2. नवमी श्राद्ध- मातृ नवमी के नाम से प्रचलित नवमी पर दिवंगत महिलाओं का श्राद्ध हो जाता है। इस बार यह तिथि 22 सितंबर को पड़ रही है।
3. चतुर्दशी श्राद्ध- किसी दुर्घटना या अकाल में होने वाले परिजनों का श्राद्ध चतुर्दशी को किया जाता है. इस बार यह तिथि 27 सितंबर को पड़ रही है
4. सर्वपितृ अमावस्या-  जिन लोगों की मृत्यु के दिन-तारीख तय न हों उनका श्राद्ध आमावस्या को किया जाता है, जो कि इस बार 28 सितंबर को किया जाएगा।


श्राद्ध के दिन
13 सितंबर- पूर्णिमा श्राद्ध
14 सितंबर- प्रतिपदा तिथि का श्राद्ध
15 सितंबर- द्वितीया तिथि का श्राद्ध
16 सितंबरदृ तृतीया तिथि का श्राद्ध
17 सितंबर- चतुर्थी तिथि का श्राद्ध
18 सितंबर- पंचमी, महा भरणी का श्राद्ध


19 सितंबर- षष्ठी तिथि का श्राद्ध
20 सितंबर- सप्तमी तिथि का श्राद्ध
21 सितंबर- अष्टमी तिथि का श्राद्ध
22 सितंबर- नवमी तिथि का श्राद्ध
23 सितंबर- दशमी तिथि का श्राद्ध
24 सितंबर- एकादशी तिथि का श्राद्ध


25 सितंबर- द्वादशी तिथि का श्राद्ध
26 सितंबर- त्रयोदशी तिथि का श्राद्ध
27 सितंबर- चतुर्दशी मघा श्राद्ध तिथि का श्राद्ध
28 सितंबर- सर्वपित्र अमावस्या का श्राद्ध
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.