भारत में खेलों को लेकर क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर ने कही ये बड़ी बात, पढक़र आपको भी होगा गर्व

Samachar Jagat | Monday, 03 Dec 2018 12:37:31 PM
Sachin Tendulkar said india should also become a participating sports country

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures

ठाणे। भारतीय क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुल्कर का मानना है कि भारत को खेलों में भाग लेने वाला देश बनाना चाहिए। महान क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर ने रविवार को कहा कि भारत खेलों को पसंद करने वाला देश है लेकिन उन्होंने कहा कि इसे खेल खेलने वाला देश बनना चाहिए। तेंदुलकर ने यहां टीएमसी स्कूल में डीबीएस बैंक के ‘स्पार्किंग द फ्यूचर’ अभियान का उद्घाटन किया, जिसके अंतर्गत सौर ऊर्जा वाली फ्लड-लाइट मैदान पर लगाई गई हैं ताकि बच्चे रात में खेलों की प्रतियोगिताओं में भाग ले सकें।


धनखड़ ने सातवीं बार जीता राष्ट्रीय कुश्ती खिताब

छात्रों को सम्बोधित करते हुए सचिन तेंदुलकर ने जीवनशैली में बदलाव की जरूरत पर जोर दिया ताकि भारत एक स्वस्थ देश बन सके। उन्होंने कहा है कि मैं यहां एक संदेश देना चाहूंगा कि मैं हमेशा कहता रहता हूं कि भारत को युवा और फिट होना चाहिए। हमारा देश युवाओं का देश है, जब आप देश के लोगों की औसत उम्र देखते हो तो भारत को युवाओं का देश कहा जाता है।

विंडीज को पारी से रौंद कर बांग्लादेश ने जीती सीरीज

तेंदुलकर ने कहा है कि लेकिन मुझे नहीं लगता कि भारत फिट या स्वस्थ देश है क्योंकि अगर ऐसा होता तो हम मधुमेह बीमारी के मामले में आगे नहीं होते। हम इस मामले में दुनिया में सबसे आगे हैं, जहां तक मोटापे का संबंध है तो हम तीसरे नंबर पर हैं इसलिए हमें अपनी जीवनशैली में बदलाव करने की जरूरत है।

फीफा अध्यक्ष ने मोदी को विशेष फुटबाल जर्सी भेंट की

उन्होंने कहा है कि हमारा देश खेलों को पसंद करता है और इसलिए अहम है कि हम खेलों को खेलने वाला देश भी बने और इसके लिए अगर इस तरह की सुविधायें आती हैं तो बच्चों को ही नहीं बल्कि उनके माता पिता को भी अपने बच्चों के साथ समय बिताने और खेलने के लिए कहूंगा जिससे अच्छे रिश्ते भी बनेंगे। 

Rajasthan Tourism App - Welcomes to the land of Sun, Sand and adventures



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!



Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.