सावधान! सेंकड हैंड स्मार्टफोन लेनें जा रहे है तो रुकिए...   

Samachar Jagat | Saturday, 19 Nov 2016 03:03:35 PM
सावधान! सेंकड हैंड स्मार्टफोन लेनें जा रहे है तो रुकिए...   

अक्सर देखा गया है कि कई लोग मंहगें स्मार्टफोन्स का शौक तो रखते है लेकिन उनकी कीमत जेब पर भारी पड़ जाती है। ऐसे में यूजर्स सेंकंड हैंड स्मार्टफोन्स लेना पसंद करते है। लेकिन क्या आप सोच सकते है बिना इन बातों को ध्यान में रखते हुए ये फोन भी आपको चूना लगा सकता है।

जी हां ऐसे में जरुरी  हो जाता है कि सेकंड हैंड स्मार्टफोन को खऱीदते समय विशेषकर कुछ बातों का ध्यान रखा जाए। तो आइए जानते है सेंकड हैंड स्मार्टफोन खऱीदते समय किन बातों का रखना चाहिए ध्यान।

20 प्रतिशत से बढ़कर 11,592 तक हुए साइबर अपराध के दर्ज मामले  

हार्डवेयर चेक करें

स्मार्टफोन को जरुर से जांच ले। फोन का हार्डवेयर चेक करना बेहद जरुरी है। फोन का हार्डवेयर चैक करनें के लिए लैपटॉप और एक यूएसबी केबल ले। लैपटॉप को स्मार्टफोन से कनेक्ट करें और देखें कि वह ठीक से चार्ज हो रहा है या नहीं। और यह भी देखें कि डेटा ट्रांसफर करने में कोई दिक्कत तो नहीं हो रही। अपना सिम कार्ड डालकर देखें कि नेटवर्क कैच कर रहा है या नहीं। वेब सर्फिंग करें, कुछ ऐप डाउनलोड करें, फोटो खींचकर कैमरा भी टेस्ट कर लें। हर तरह से दुरुसत होन पर ही खरीदें।

कहीं चोरी का तो नहीं है फोन-

जरुरी नहीं कि हर सेंकड हैंड फोन बेचनें वाला यूजर उसी का मालिक हो। सेकंड हैंड फोन बेचने वाले अक्सर आपको चोरी का फोन भी बेच सकते है। अगर आप किसी ऐसी स्थिति में हो तो अपनी समस्या को दूर करनें के लिए उससे उस स्मार्टफोन का बॉक्स देनें को भी कहें। अगर बॉक्स नहीं हो तो डायल कर फोन का IMEI नंबर चेक करें। इसके बाद इस नंबर को IMEIdetective.com जैसे वेबसाइट्स पर चेक करें। अगर डिवाइस चोरी का हुआ और उसके मालिक ने उसका नंबर ट्रैकिंग के लिए डाला हुआ तो आप चोरी का फोन खरीदने से बच जाएंगे।

जरूर देखें रैम और प्रोसेसर

स्मार्टफोन में जो चीज काम की होती है यूजर्स के लिए वह है स्मार्टफोन की रैम। अब तो 10,000 रुपए से नीचे के स्मार्टफोन्स में भी 2जीबी की रैम दी जा रही है। इसलिए ये आवश्यक है जो स्मार्टफोन आपके द्दारा खरीदा जा रहा है उसकी  रैम अवश्य जांच लें। फोन का प्रोसेसर भी अवश्य जांच ले। क्वॉलकॉम स्नैपड्रैगन चिप वाला सेकंड हैंड स्मार्टफोन ढूंढें, वह लंबा चलेगा। इंटेल पावर्ड स्मार्टफोन्स भी अच्छे रहेंगे, लेकिन बैटरी के मामले में दिक्कत हो सकती है।

इन शानदार फीचर्स के साथ 2017 में पेश हो सकता है आईफोन-8

फोन वॉरंटी में हो तो अच्छा रहेगा

कई बार खरीदार अपने फोन को हैंडसेट खरीदने के तुरंत बाद अपग्रेड कर लेते हैं। कई बार तो कुछ ही महीनों में अपग्रेड कर लेते हैं। इसका मतलब यह हुआ कि उन हैंडसेट्स पर ऑफिशल वॉरंटी अभी भी लागू हो सकती है। इससे आपको बहुत फायदा होगा। इसलिए ऐसे बेचने वालों को ढूंढें जो थोड़ी-बहुत ही सही, वॉरंटी के साथ फोन बेच रहे हों। थर्ड पार्टी वॉरंटी वाले फोन पर भी नजर रखें, इससे कुछ तो डैमेज प्रोटेक्शन मिलेगी ही। कुछ भी न मिलने से तो यह बेहतर है।

फोन वॉरंटी में हो तो अच्छा रहेगा

कई बार खरीदार अपने फोन को हैंडसेट खरीदने के तुरंत बाद अपग्रेड कर लेते हैं। कई बार तो कुछ ही महीनों में अपग्रेड कर लिया जाता हैं। इसका मतलब यह हुआ कि उन हैं डसेट्स पर ऑफिशल वॉरंटी अभी भी लागू हो सकती है। इससे आपको बहुत फायदा होगा। इसलिए हमेशा ऐसे यूजर्स से ही फोन खऱीदे जो वॉरंटी के साथ फोन बेच रहे हों। थर्ड पार्टी वॉरंटी वाले फोन पर भी नजर रखें, इससे कुछ तो डैमेज प्रोटेक्शन मिलेगी ही। कुछ भी न मिलने से तो यह बेहतर है।

सिक्यॉर तरीके से पेमेंट करें

अगर आप ऑनलाइन फोन खरीद रहे हैं तो पेमेंट हमेशा सिक्यॉर चैनल से ही करें। इससे आपको फोन लौटाने पर पैसा आसानी से वापस मिल जाएगा।

लाइफ पार्टनर है खुशमिजाज तो दूर रहेंगी बीमारियां

तो क्या इन कारणों से महिलाएं करती है संभोग?

O M G ! तो ब्रेकअप के बाद लडकियां करती है ये 10 काम.....

 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.