अमेरिकी तेल का यूक्रेन पर हमले में सहयोग देने में इस्तेमाल कर सकता है चीन : Republican lawmaker

Samachar Jagat | Friday, 02 Sep 2022 09:20:55 AM
China may use US oil to aid attack on Ukraine: Republican lawmaker

वाशिगटन : रिपब्लिकन पार्टी के सांसदों के एक समूह ने चिता व्यक्त की है कि चीन की कम्युनिस्ट पार्टी के नियंत्रण वाली कंपनी 'यूनिपेक अमेरिका’ को तेल की आपूर्ति करने से चीन इसका इस्तेमाल यूक्रेन पर रूस के आक्रमण को सहयोग देने में कर सकता है।

सांसदों ने राष्ट्रपति जो बाइडन के प्रशासन द्बारा अहम संपत्तियों की बिक्री का उचित तरीके से प्रबंधन को सुनिश्चित करने के लिए ऊर्ज़ा मंत्री जेनिफर ग्रानहोम से तत्काल इस पर जानकारियां उपलब्ध कराने का आह्वान किया है। 'निरीक्षण एवं सुधार रैंकिग’ पर सदन की समिति के सदस्य जेम्स कोमर तथा ’नागरिक अधिकार एवं नागरिक स्वतंत्रता रैंकिग’ पर सदन की उपसमिति की सदस्य नैंसी मैस ने कहा, ''हम लगातार देख रहे हैं कि अमेरिका के ऊर्ज़ा विभाग को सामरिक पेट्रोलियम रिजर्व (एसपीआर) से तेल की कमी हो रही है। ऊर्ज़ा विभाग के अनुसार, बाइडन प्रशासन ने हाल में साइनोपेक की सहायक कंपनी यूनीपेक को तकरीबन 10 लाख बैरल एसपीआर बेच दिया। साइनोपेक चाइनीज कम्युनिस्ट पार्टी के नियंत्रण वाली कंपनी है।’’

रिपब्लिकन सांसदों ने कहा, ''राष्ट्रपति के बेटे हंटर बाइडन के इस सौदे से मिली रकम लेने पर चिताओं के साथ ही यूनीपेक को तेल बेचने का फैसला परेशान करने वाला है क्योंकि चीनी कंपनियां यूक्रेन पर रूस के हमले का समर्थन कर रही हैं। अमेरिकी लोगों को यह आश्वस्त करने के लिए कि बाइडन प्रशासन एसपीआर से अहम संपत्तियों की बिक्री का उचित तरीके से प्रबंधन कर रहा है और चीन को तेल देकर रूस का समर्थन नहीं कर रहा है, हम इस मामले से संबंधित दस्तावेज तथा जानकारियां बताने का आग्रह करते हैं।’’ 



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.