Good Friday 2022: आज है गुड फ्राइडे, जानें कैसे मनाया जाता है ये दिन और क्या है इसका इतिहास

Samachar Jagat | Friday, 15 Apr 2022 03:02:17 PM
Good Friday 2022: 'Good Friday' means the day of sacrifice of Jesus Christ

गुड फ्राइडे एक ऐसा दिन है जब प्रभु यीशु ने इस दुनिया में अपने भक्तों की खातिर अपने जीवन का बलिदान देकर निस्वार्थ प्रेम की पराकाष्ठा की मिसाल पेश की। इस दिन का महत्व प्रभु यीशु के कष्टों को याद करना और उनके वादों को पूरा करना है।

जो लोग ईसाई धर्म का पालन करते हैं वे गुड फ्राइडे के पहले 40 दिनों के लिए संयम और व्रत का पालन करते हैं। इस काल को 'चालीसा' कहते हैं। इस बीच, ईसाई खुद को आध्यात्मिक और शारीरिक रूप से शुद्ध करने की कोशिश कर रहे हैं। यह उनके आंतरिक और बाहरी परिवर्तन का रास्ता दिखाता है
काम।

'पीड़ा' के ये 40 दिन
यह भी कहा जाता है। क्योंकि यीशु ने आम लोगों को प्रचार करने से पहले चालीस दिन तक रेगिस्तान में कुछ भी नहीं खाया-पीया।
भगवान से प्रार्थना की। इसे ध्यान में रखते हुए, ईसाई अपने जीवन का बलिदान, उपवास और भगवान से प्रार्थना करके एक पवित्र जीवन जीने की कोशिश करते हैं।

गुड फ्राइडे के दिन चर्च नहीं सजाए जाते। इस दिन प्रभु यीशु की मृत्यु के बाद उनके पार्थिव शरीर को कब्रिस्तान में रखा गया था।

इसलिए कहा जाता है कि इस दिन वे चर्च में शारीरिक रूप से मौजूद नहीं होते बल्कि आध्यात्मिक दृष्टि से वे वहां हर पल मौजूद रहते हैं। उनकी याद में चर्च में पूरे दिन प्रार्थना सभाएं होती हैं।



 

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.