Jaipur : इधर मंडप सजा था, बारात के आने का इंतजार हो रहा था और उधर घूसखोर निलंबित RAS अधिकारी पिंकी मीणा ने गुपचुप तरीके से गांव में ही ले लिये सात फेरे...! चार दिन बाद जेल में करना होगा सरेंडर

Samachar Jagat | Wednesday, 17 Feb 2021 11:18:29 AM
The pavilion was decorated here, waiting for the procession to come and there was a suspended bribe RAS officer Pinki Meena who secretly took seven rounds in the village itself…! Surrender will have to be done in jail after four days

इंटरनेट डेस्क। घूसखोरी के आरोप में राजस्थान प्रशासनिक सेवा से निलंबित अधिकारी पिंकी मीणा की शादी में शामिल हुए रिश्तेदार बिना दुल्हे को देखे ही बैरंग लौट गए। दरअसल हुआ ये कि जयपुर स्थित जिस रिसॉर्ट में उनकी शादी होनी था वहां बारात पहुंची ही नहीं बल्कि दुल्हा-दुल्हन ने गुपचुप तरीके से एक गांव में ही विवाह रचा लिया। यहीं कुछ रिश्तेदारों की मौजूदगी में जोड़े ने सात फेरे लिये। 

दरअसल इस जोड़े की शादी के ऐन मौके पर बड़ा ट्विस्ट आ गया। जयपुर के सीकर रोड स्थित एक रिसॉर्ट में मेहमान तो पहुंचे लेकिन मेहमान नवाजी का लुत्फ उठाने बारात पहुंची ही नहीं। देर रात तक दूल्हे का इंतजार होता रहा। मंडप सूना पड़ा रहा। आखिर बुधवार सुबह इस मामले से पर्दा उठा कि पिंकी मीणा ने गुपचुप में एक गांव में ही शादी के फेरे लिये गये।

शादी की रस्में निभाई जा रही थी लेकिन मेहमान रात 10 बजे तक बारात का इंतजार ही करते रहे। रात 10 बजे इस बात की फुसफुसाहट हुई की बारात राजावास के इस गार्डन में नहीं आएगी। मैरिज गार्डन के गेट बंद कर दिए गए हालांकि मेहमानों ने खाना खा लिया था। तभी पता चला कि पिंकी मीणा की शादी उनके गांव चिथवाड़ी स्थित घर में ही होगी। कुछ देर में दूल्हा नरेंद्र भी दौसा के बसवा से चिथवाड़ी गांव में पहुंच गया। हालांकि शादी होने के बाद अभी भी पिंकी की मुसीबतें कम नहीं हुई है। राजस्थान हाई कोर्ट के आदेश के अनुसार 21 फरवरी को पिंकी मीणा को जेल में सरेंडर करना होगा।



 
loading...




Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.