कालेधन का खात्मा करेगी नोटबंदी, सबको होगा फायदा : सरकार

Samachar Jagat | Friday, 25 Nov 2016 04:42:38 AM
कालेधन का खात्मा करेगी नोटबंदी, सबको होगा फायदा : सरकार

नई दिल्ली। मोदी सरकार ने आज उच्चतम न्यायालय में दोहराया कि नोटबंदी के ‘साहसी कदम’ से कालेधन तथा आजादी के बाद से ही गलत कामों के लिए जमा किए गए उस धन का खात्मा होगा जो कि ‘समानानंतर अर्थव्यवस्था’ के रूप में गरीबों व मध्यम वर्ग को नुकसान पहुंचा रहा है।

कें ने नोटबंदी को लेकर उच्चतम न्यायालय में दाखिल हल्फनामे में यह बात कही है। इसमें कहा गया है कि इस फैसले को लेकर पूरी तरह गोपनीयता बरती गई और इससे अब महत्वाकांक्षी जन धन योजना के समुचित कार्यान्वयन में मदद मिलेगी। इस योजना के तहत गरीब लोगों के लगभग 22 करोड़ बैंक खाते खोले गए और ऐसी रपटें सामने आई थीं कि असामाजिक तत्व इनका इस्तेमाल अपने कालेधन को वैध बनाने के लिए कर रहे हैं।

इसके साथ ही नोटबंदी को रीयल इस्टेट क्षेत्र पर लगाम के रूप में भी देखा जा रहा है जहां कीमतें कृत्रिम रूप से बढाई गईं और गरीब तबके व मध्यम वर्ग के लिए वहनीय मकान ही उपलब्ध नहीं हो रहे थे।

क्रेडिट व डेबिट कार्ड, इंटरनेट बैंकिंग, मोबाइल एप व मोबाइल वालेट के जरिए अर्थव्यवस्था में डिजिटल लेनदेन बढाने पर जोर का जिक्र करते हुए इसमें कहा गया है कि बीते 10 दिन में इनके इस्तेमाल में लगभग 300 प्रतिशत की बढोतरी हुई है।

अपने हलफनामे में कें ने इस योजना के कार्यान्वयन में बरती गई अति गोपनीयता के कारणों पर भी प्रकाश डाला है। इसमें कहा गया है कि अगर इस योजना की भनक या संकेत भी पहले लग जाता तो योजना अपने वास्तविक उद््देश्य में खरी नहीं उतरती।

इसमें कहा गया है, ‘‘इस योजना का फिलहाल या आंशिक रूप से कुछ क्षेत्रों पर असर पड़ा है लेकिन दूरगामी स्तर पर अर्थव्यवस्था के लिए बड़े फायदों की उम्मीद नजर आ रही है।’’

इस मामले में महत्वपूर्ण सुनवाई से एक दिन पहले कें सरकार की ओर से यह हल्फनामा दाखिल किया गया है। इसके अनुसार ‘‘इतने बड़े स्तर पर इतना गंभीर प्रयास पहले कभी नहीं किया गया। हालांकि 1946 व 1978 में दो प्रयास हुए लेकिन उनका स्तर इतना बड़ा नहीं था।’’

सरकार की ओर से यह हलफनामा अटार्नी जनरल मुकुल रोहतगी ने दाखिल किया है। इसमें सरकार द्वारा 1000 व 500 रुपए के मौजूदा नोटों को चलन से बाहर करने के सरकार के फैसले का बचाव किया गया है। देश की कुल मुद्रा में इन नोटों का हिस्सा 80-85 प्रतिशत है।

इसमें कहा गया है, ‘‘इससे कालेधन का खात्मा होगा जिसने समानांतर अर्थव्यवस्था के रूप में हमारी वास्तविक अर्थव्यवस्था पर बहुत प्रतिकूल असर डाला है। कालेधन की सबसे अधिक मार गरीबों व मध्यम वर्ग पर हुई है और नोटबंदी का सबसे अधिक फायदा भी इन्हें होगा। इससे कर चोरी घटेगी और औपचारिक अर्थव्यवस्था में अधिक लेन-देन होंगे।’

सरकार ने कहा है कि 2000 व 500 रुपए के नए नोटों की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए सभी कदम उठाए जा रहे हैं।

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.