10 जूनः एक क्लिक में पढ़ें 10 बड़ी खबरें

Samachar Jagat | Sunday, 10 Jun 2018 04:16:29 PM
10 june latest top ten news

रमन को चौथी बार सरकार बनाने के लिए दें समर्थनः अमित शाह

Give Support Raman to form government for fourth time Amit Shah

अंबिकापुर। भारतीय जनता पार्टी(भाजपा)के अध्यक्ष अमित शाह ने आज छत्तीसगढ़ में चुनावी अभियान की शुरूआत करते हुए लोगो से डाॅ.रमन सिंह को चौथी बार मुख्यमंत्री बनाने के लिए समर्थन की अपील की। शाह ने आज यहां मुख्यमंत्री डाॅ. सिंह की राज्य में चल रही विकास यात्रा में शामिल होने के बाद एक बड़ी सभा को सम्बोधित करते हुए तमाम अटकलों पर विराम लगाकर मुख्यमंत्री डाॅ.रमन सिंह के ही नेतृत्व में चुनाव मैदान में उतरने और डाॅ.सिंह को चैथी बार मुख्यमंत्री बनाने के लिए एक बार फिर समर्थन की अपील की। उन्होने लोगो से कहा कि.. आपका सिर कभी भी रमन सिंह ने नहीं झुकने दिया। आने वाले चुनाव में आपके आर्शीवाद से फिर रमन सिंह की सरकार बनेगी..।

उन्होंने सभा में मौजूद लोगो से हाथ उठाकर कहा कि मुझे बताओ चैथी बार रमन सिंह को आशीर्वाद देंगे। जनता की ओर से दोनों हाथ उठाकर जवाब उन्हें हां में दिया गया। उन्हाेंने लोगों से कहा कि इस बार वह भाजपा को सामान्य बहुमत नहीं बल्कि दो तिहाई बहुमत दे और छत्तीसगढ़ से कांग्रेस को उखाड़ फेंके। उन्हाेंने कहा कि कांग्रेस अपने गिरेबान में झांककर देखे, 55 साल में उसने कुछ नहीं किया। 

छुट्टी होने के बाद भी सुषमा स्वराज ने वीजा दिलाया

Sushma Swaraj granted visa after vacation

नई दिल्ली। विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ट्विटर पर मदद मांगने पर रविवार होने के बावजूद भी ऑस्ट्रेलिया में बसी एक भारतीय महिला को सहायता प्रदान की है। एक महिला अपनी मां के अंतिम संस्कार में शामिल होना चाहती थी लेकिन रविवार की छुट्टी होने की वजह से उसका वीजा जारी नहीं हो पा रहा था। इस पर विदेश मंत्री ने उसे वीजा जारी करवा दिया है।

मिली जानकारी के अनुसार, ऑस्ट्रेलिया में रहने वाली आरती दीवान ने ट्वीट करके विदेश मंत्री को जानकारी दी कि मेरी मां का निधन हो गया है और मुझे  मेरी मां के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए भारत लौटना चाहती हूं। मुझे ऑस्ट्रेलिया से भारत लौटने के लिए बी वीजा की जरूरत है ।

रविवार को सार्वजनिक छुट्टी का दिन होने के कारण कोई भी मेरी मदद करने को तैयार नहीं हो पा रहा हूं । विदेश मंत्री स्वराज ने ट्वीट करने के कुछ ही देर बाद फिर से ट्वीट करते हुए कहा कि गोंडने जी- मैं जानती हूं कि हाई कमीशन की रविवार होने के कारण बंद है, लेकिन इनको वीजा जारी कर दें ताकि अपनी मां की अंतिम यात्रा में शामिल हो सकें। इसके बाद आरती को वीजा जारी कर दिया गया । उल्लेख है कि सुषमा स्वराज ट्विटर पर भारतीयों की मदद करने के लिए हमेशा तत्पर रहती हैं। 

भारत-पाकिस्तान के शामिल होने से एससीओ की ताकत और बढ़ेगीः चिनफिंग

India-Pakistan Joining SCO  strength will increase Chinfing

चिंगदाओ। चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग ने आज कहा कि शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) में भारत और पाकिस्तान के शामिल होने से इसकी ताकत और बढ़ेगी। उन्होंने आठ सदस्यीय इस समूह में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और पाकिस्तान के राष्ट्रपति ममनून हुसैन का स्वागत किया। 

चीन स्थित एससीओ में पिछले वर्ष भारत और पाकिस्तान के सदस्यों के रूप में शामिल होने के बाद से मोदी और हुसैन पहली बार इस शिखर सम्मेलन में भाग ले रहे हैं। 18 वें एससीओ सम्मेलन की मेजबानी कर रहे चिनफिंग ने अपने शुरूआती भाषण में कहा कि यहां पूर्वी चीनी बंदरगाह शहर में आयोजित बैठक में प्रधानमंत्री मोदी और पाकिस्तान के राष्ट्रपति हुसैन की उपस्थिति ‘महान ऐतिहासिक क्षण’ है। चिनफिंग ने कहा, संगठन शंघाई भावना के लिए खड़ा है। उन्होंने आम, व्यापक, समग्र, सहकारी और दीर्घकालीन सुरक्षा का आह्वान किया। उन्होंने कहा, हमें शीत युद्ध की मानसिकता और गुटों के बीच टकराव को खारिज करना चाहिए और अन्य देशों की सुरक्षा के खर्च पर स्वयं की पूर्ण सुरक्षा के चलन का विरोध करना चाहिए, ताकि सभी देशों को सुरक्षा प्राप्त हो सके। 

जी7 में लड़कियों की शिक्षा पर 202.56 अरब रुपये खर्च करने का संकल्प किया गया

A budget of 202.56 billion rupees was spent on education of girls in G7

ला मालबयी। विश्व के सात प्रमुख देशों के जी7 सम्मेलन में शनिवार को घोषणा की गई कि शरणार्थी सहित कमजोर महिलाओं और लड़कियों को शिक्षा देने के लिए करीब 202.56 अरब रुपये खर्च किए जाएंगे। कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रुडो ने इसे संकट और संघर्ष की परिस्थितियों में महिलाओं और लड़कियों कि शिक्षा पर खर्च किया जाने वाला अकेला सबसे बड़ा निवेश बताया है। कनाडा इसके लिए लगभग दो अरब ढाई करोड़ रुपये देगा। इस शिखर सम्मेलन से इतर नारीवादी समूहों ने ट्रुडो से मिलकर जितनी राशि की मांग की थी, यह वह उस राशि से ज्यादा है।

सामाजिक कार्यकर्ताओं और शांति के नोबेल पुरस्कार से सम्मानित मलाला यूसुफजई ने इसके लिए जी7 की प्रशंसा की।मलाला ने कहा, इससे लड़कियों को उम्मीद की किरण मिलेगी कि वह अपने लिए एक बेहतरीन भविष्य का निर्माण कर सकें। यह धन विकासशील देशों की युवा लड़कियों को बाल विवाह और बाल मजदूरी के बदले भविष्य बनाने का अवसर मिलेगा। जी7 के समापन वक्तव्य में प्लास्टिक कचरे में कमी लाकर समुद्र के प्रदूषण को कम करने की भी प्रतिज्ञा ली गई है।

प्रियंका चोपड़ा ने क्वांटिको में भारतीय नागरिक को आतंकी बताने वाले दृश्य के लिए माफी मांगी

Priyanka Chopra apologized to the Indian citizen in Quantica for a scene telling terrorists

लॉस एंजिलिस। मशहूर अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा ने अमेरिकी टीवी सीरीज क्वांटिको के एक हालिया एपिसोड के लिए माफी मांगी है, जिसके एक दृश्य में भारतीय राष्ट्रवादियों को आंतकी बताया गया है , जिस पर हाल में सोशल मीडिया पर काफी विवाद हुआ है। प्रियंका ने ट्विटर के जरिए द ब्लड ऑफ रोमियो नामक एपिसोड को लेकर पैदा हुए विवाद पर माफी मांगी। 

इस एपिसोड को भारतीय दर्शकों की तरफ से काफी तीखी प्रतिक्रिया मिली है। दर्शकों ने इस शो में मुख्य भूमिका निभाने वाली प्रियंका की बहुत आलोचना की, जिसमें भारत को नकारात्मक छवि के रूप में पेश किया गया है। खुद को एक गौरवान्वित भारतीय बताते हुए चोपड़ा ने कहा कि वह बेहद दुखी हैं और उनका इरादा कभी लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंचाने का नहीं था।

उन्होंने ट्वीट किया, मैं बेहद दुखी हूं और क्वांटिको के एक हालिया एपिसोड के कारण जिन लोगों की भावनाएं आहत हुई हैं, उसके लिए मुझे खेद है। मैं तहे दिल से माफी मांगती हूं। मुझे एक भारतीय होने पर गर्व है और यह भाव कभी नहीं बदलेगा।चोपड़ा का यह बयान इस शो की निर्माण कंपनी एबीसी नेटवर्क के बयान के एक दिन बाद आया है। नेटवर्क ने क्वांटिको के इस हालिया एपिसोड के लिए माफी मांग ली थी। 

इस एपिसोड में भारतीय राष्ट्रवादियों को मैनहट्टन में एक आतंकी हमले के साजिशकर्ता के रूप में दिखाया गया है। इस शो के निर्माताओं ने कहा था कि इसमें प्रिंयका चोपड़ा का कोई दोष नहीं है क्योंकि वह इसके निर्माण संबंधी योजना में शामिल नहीं थीं। चोपड़ा किसी अमेरिकी टीवी सीरीज में मुख्य भूमिका निभाने वाली पहली भारतीय कलाकार बन गई हैं , जिसमें वह एफबीआई एजेंट एलेक्स पेरिस की भूमिका में है। यह क्वांटिको का तीसरा और आखिरी सीजन है।

फिल्म इंडस्ट्री में सफलता का कोई फार्मूला नहीं : जैकलीन

No success formula in the film industry: Jacqueline

 

मुंबई। बॉलीवुड की जानी मानी अभिनेत्री और पूर्व मिस श्रीलंका जैकलीन फर्नांडीस का कहना है कि फिल्म इंडस्ट्री में सफलता का कोई फार्मूला नही है। जैकलीन ने वर्ष 2009 में बॉलीवुड में अपने करियर की शुरूआत फिल्म अलादीन से की थी। इसके बाद जैकलीन ने किक, जुड़वा 2 , हाउसफुल और रेस जैसी सुपरहिट फिल्मों में काम किया।

जैकलीन ने कहा, एंटरटेनमेंट क्रूर बिजनेस है, जहां हर शुक्रवार चीजें बदल जाती हैं, सफलता का यहां कोई फॉर्मूला नहीं है, लेकिन हर हफ्ते आप असलियत से रू-ब-रू होते हैं। जैकलीन ने कहा , कभी-कभी हम हत्तोसाहित हो जाते हैं क्योंकि हर शुक्रवार फैंस, लॉयलटी बदल जाते हैं और जब सब सही चल रहा होता है तो हम यह भूल जाते हैं कि आप किसी भी वक्त विफल भी हो सकते हैं।

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि मैं अपने फैंस के प्रति ईमानदार हूं। मैं अपने 18 मिलियन फैंस को वो यूज करने नहीं कह सकती, जो मैं खुद नहीं करती, मैं दिल से सोचती हूं। मैं वही ब्रान्ड एंडोर्स करती हूं , जिन पर मुझे विश्वास होता है। मैंने कई बार उन एंडोर्समेंट्स को मना किया है, जो मुझे बहुत पैसा दे रहे थे क्योंकि मैं वो प्रोडक्ट कभी यूज नहीं करूंगी।

एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी में भारतीय महिला हॉकी टीम हारी

Indian women's hockey team lose in Asian Champions Trophy

डोंगाई सिटी। एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी के फाइनल में भारतीय महिला हॉकी टीम रविवार को कड़ा मुकाबले में दक्षिण कोरिया महिला हॉकी टीम से 0-1 से पराजय हो गई।  इस वजह से तीसरी खिताबी जीत के ख्वाब धूर्मिल हो गए हैं। मिली जानकारी के अनुसार, दक्षिण कोरिया ने फाइनल में विजय हासिल करने के बाद पहली एशियाई चैम्पियंस ट्रॉफी अपने नाम कर ली है।  इस मैच में दोनों टीमों ने अपना अच्छा प्रदर्शन किया। इसी वजह से  पहले क्र्वाटर फाइनल में दोनों देशों की टीमों में से कोई भी गोल दागने में असमर्थ रही।

दूसरे क्र्वाटर में 19वें मिनट में दक्षिण कोरिया को पेनाल्टी कॉर्नर से गोल दागने का मौका मिल गया, लेकिन कप्तान और गोलकीपर सविता ने शानदार बचाव करते हुए गोल दागने से बचा लिया।  इसी प्रकार एक बार फिर सविता ने 21वें मिनट में दक्षिण कोरिया के पेनाल्टी कॉर्नर के अवसर पर दीवार बनकर खड़ी हो गई।

उन्होंने शानदार डाइव मारते हुए गेंद को गोल पोस्ट तक जाने नहीं दिया। लेकिन, दक्षिण कोरिया की खिलाड़ी यंगसिल ने 24वें मिनट में फील्ड गोल करते हुए अपनी टीम के लिए एक गोल दागकर खाता खोल दिया। भारत ने खेल में तेजी से बढ़ाकर दोनों देशों का स्कोर बराबर करने का प्रयास किया लेकिन वे सफल नहीं हो सकी। 

दक्षिण अफ्रीका ने पहले वनडे में इंग्लैंड को सात विकेट से हराया

South Africa beat England by seven wickets in first ODI

लंदन। दक्षिण अफ्रीका महिला क्रिकेट टीम ने गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बूते यहां पहले एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय मैच में विश्व चैम्पियन इंग्लैंड पर सात विकेट की जीत दर्ज की। दक्षिण अफ्रीका को पिछले साल विश्व कप सेमीफाइनल में मेजबान इंग्लैंड से हाथों शिकस्त का सामना करना पड़ा था। लेकिन टीम ने उस हार को भुलाकर सीरीज की शुरूआत सकारात्मक तरीके से की। 

इंग्लैंड ने टाॅस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला किया लेकिन टीम नौ विकेट पर 189 रन ही बना सकी।दक्षिण अफ्रीकी तेज गेंदबाज शबनम इस्माइल और अयाबोंगा खाका ने तीन तीन विकेट चटकाये। कैथरीन ब्रंट ही एकमात्र बल्लेबाज रहीं जिन्होंने 98 गेंद में 72 रन की पारी खेलकर इंग्लैंड को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया। लेकिन दक्षिण अफ्रीका ने लिजेली ली के नाबाद 92 रन की मदद से जीत दर्ज की और तीन मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त हासिल कर ली।

सरकारी बैंकों को 2017-18 में 87,000 करोड़ रुपये का घाटा

Government banks lose Rs 87,000 crore in 2017-18

नई दिल्ली। सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों का सामूहिक शुद्ध घाटा 2017-18 में बढ़कर 87,357 करोड़ रुपये हो गया। सबसे ज्यादा घाटा घोटाले की मार झेल रहे पंजाब नेशनल बैंक (12,283 करोड़ रुपये) को हुआ। दूसरे पायदान पर आईडीबीआई बैंक रहा। कुल 21 सरकारी बैंकों में से दो बैंक - इंडियन बैंक और विजया बैंक - ने 2017-18 में मुनाफा दर्ज किया। इंडियन बैंक को 1,258.99 करोड़ रुपये और विजया बैंक को 727.02 करोड़ रुपये का लाभ हुआ। इंडियन बैंक का यह अब तक का सबसे अधिक मुनाफा है। 

बैंकों द्वारा जारी तिमाही आंकड़ों के मुताबिक, वित्त वर्ष के दौरान इंडियन बैंक और विजया बैंक को छोड़कर शेष बैंकों को कुल मिलाकर 87,357 करोड़ रुपये का घाटा हुआ। वहीं, 2016-17 के दौरान इन 21 बैंकों को कुल 473.72 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। 14,000 करोड़ रुपये के घोटाले का दंश झेल रहे पंजाब नेशनल बैंक को पिछले वित्त वर्ष में 12,282.82 करोड़ रुपये का शुद्ध घाटा हुआ जबकि इससे पिछले वित्त वर्ष में उसने 1,324.8 करोड़ रुपये का मुनाफा कमाया था। 

पीएनबी के बाद सबसे ज्यादा घाटा आईडीबीआई बैंक को हुआ। उसका घाटा 2016-17 के 5,158.14 करोड़ रुपये से बढ़कर 2017-18 में 8,237.93 रुपये हो गया। देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक का शुद्ध घाटा 2017-18 में 6,547.45 करोड़ रुपये रहा, जबकि 2016-17 में उसे 10,484.1 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ हुआ था। वहीं, देश का बैंकिंग क्षेत्र एनपीए और घोटाले एवं धोखाधड़ी से जूझ रहा है। दिसंबर 2017 तक बैंकिंग क्षेत्र का एनपीए 8.31 लाख करोड़ रुपये रह गया। 

बढ़ते डूबे कर्ज के कारण बैंकों की वित्तीय स्थिति खस्ताहाल है और इसके चलते 21 सार्वजनिक बैंकों में से 11 को रिजर्व बैंक ने त्वरित सुधार कार्रवाई (पीएसए) प्रणाली के अंतर्गत रखा है। वित्त मंत्री पीयूष गोयल ने एनपीए के निपटारे के लिए एक राष्ट्रीय परिसंपत्ति पुनर्गठन कंपनी के गठन के बारे में सुझाव देने के लिए विशेषज्ञों की समिति का गठन किया गया है। समिति 15 दिनों के भीतर अपने सुझाव देगी।

ऋणशोधन प्रक्रिया वाली कंपनियों पर 11 जून से रहेगी अतिरिक्त निगरानी

Excess surveillance will remain on June 11 from companies with debt restructuring process

मुंबई। बाजार नियामक सेबी व स्टॉक एक्सचेंजों ने ऋणशोधन निपटान प्रक्रिया (आईआरपी) के तहत आई कंपनियों के लिए सोमवार से अतिरिक्त निगरानी उपाय करने का फैसला किया है। बीएसई ने एक बयान में यह जानकारी दी है। इसमें कहा गया है, पहले से ही लागू अनेक निगरानी कदमों की निरंतरता में सेबी व एक्सचेंजों ने फैसला किया है कि 11 जून 2018 से उन कंपनियों के लिए निगरानी उपाय लागू होंगे जो आईआरपी के तहत हैं। 

इसके तहत आईबीसी के अधीन पहले ही ऋणशोधन प्रक्रिया से गुजर रही कंपिनयों को पर पूर्व निर्धारित लक्षित मानकों के हिसाब से निगरानी रखी जाएगी। प्रमुख स्टॉक एक्सचेंज बीएसई के आंकड़ों के अनुसार 75 कंपनियां इस समय ऋणशोधन व दीवाला संहिता (आईबीसी) के तहत ऋणशोधन प्रक्रिया से गुजर रही हैं।

इनमें एबीजी शिपयार्ड, एमटेक आटो, भूषण स्टील, जेपी इन्फ्राटेक, इलेक्ट्रोस्टील स्टील्स, मंधाना इंडस्ट्रीज, मोनेट इस्पात एंड एनर्जी, रूचि सोया, सुप्रीम टेक्स मार्ट, वर्धमान इंडस्ट्रीज तथा रेई एग्रो शामिल है। बाजार नियामक सेबी व स्टॉक  एक्सचेंज निवेशकों के हितों की रक्षा के लिए अनेक ऐसे कदम उठा रहे हैं जिससे निगरानी व्यवस्था को मजबूत बनाया जा सके।



 
loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.