तेजी से फैल रहा 'ओमाइक्रोन', 13 देशों में पहुंचा वैरिएंट

Samachar Jagat | Tuesday, 30 Nov 2021 10:21:01 AM
'Omicron' spreading rapidly, variant reaches 13 countries

नई दिल्ली: कोरोना संक्रमण का प्रकोप एक बार फिर बढ़ता ही जा रहा है. दक्षिण अफ्रीका में पाए जाने वाले ओमाइक्रोन प्रकार के तेजी से फैलने का संकट पूरी दुनिया में मंडरा रहा है और यह भारत जैसे देशों के लिए एक बड़ा खतरा पैदा कर सकता है। कोरोना का नया रूप ओमाइक्रोन 13 देशों में पहुंच चुका है। यह स्थिति है जब अधिकांश देशों ने ओमाइक्रोन में संकट को देखते हुए यात्रा प्रतिक्रिया को लागू किया है। वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भी चेतावनी दी है कि जोखिम बहुत अधिक है और कुछ क्षेत्रों में बहुत गंभीर साबित हो सकता है। डब्ल्यूएचओ ने चेतावनी दी है कि नया वेरिएंट दुनिया के लिए बड़ा संकट बन सकता है। कोरोना का नया संस्करण ओमिक्रोन यूके, ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी, इटली, बेल्जियम, इज़राइल, हांगकांग, नीदरलैंड, डेनमार्क, बेल्जियम, चेक गणराज्य, पुर्तगाल और कनाडा में पहुंच गया है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा कि दुनिया भर में इसके फैलने का उच्च जोखिम है। अगर यह वेरिएंट कोरोना वायरस को तेज करता है तो इसके परिणाम खतरनाक होंगे। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने भी कहा कि अभी तक वैरिएंट से एक भी मौत की पुष्टि नहीं हुई है। यह भी अभी तक स्पष्ट नहीं है कि ये रूप कितने संक्रामक और भयावह हैं। अपने 194 सदस्य देशों को एक सुझाव में, संयुक्त राष्ट्र निकाय ने कहा कि उन्हें टीकाकरण अभियान को तेज रखना चाहिए। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा कि ओमाइक्रोन में बहुत सारे म्यूटेंट हैं। उनमें से कुछ ऐसे भी हैं जो बड़े विस्फोट कर सकते हैं। हालांकि, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा कि हार की संभावना को लेकर ओमाइक्रोन वैक्सीन से इम्युनिटी की भी जांच करनी होगी।


 
वहीं, विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कहा कि अगले कुछ ही क्षणों में और आंकड़े सामने आएंगे, जिससे तस्वीर और सटीक होगी। इस बीच, महामारी विज्ञानियों का अनुमान है कि इस सप्ताह के अंत तक दक्षिण अफ्रीका में ओमाइक्रोन संस्करण के कारण प्रतिदिन 10,000 नए मामले प्राप्त हो सकते हैं। दक्षिण अफ्रीका की जनसंख्या को देखते हुए यह एक बड़ी संख्या है। अब यह आवश्यक है कि हम उचित सावधानी बरतें, नहीं तो खतरा बढ़ सकता है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2022 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.