IAF : राजौरी की 23 साल की माव्या सुदन ने रचा इतिहास, जम्मू-कश्मीर की पहली महिला फाइटर पायलट बनीं

Samachar Jagat | Monday, 21 Jun 2021 09:26:52 AM
IAF: 23-year-old Mavya Sudan from Rajouri created history, became the first woman fighter pilot of Jammu and Kashmir

इंटरनेट डेस्क। जम्मू-कश्मीर के राजौरी जिले की रहने वाली 23 साल की माव्या सूदन ने राज्य का नाम रोशन कर दिया है। माव्या भारतीय वायुसेना में महिला फाइटर पायलट के रूप में शामिल होकर जम्मू-कश्मीर की पहली महिला फाइटर पायलट बनकर इतिहास रच दिया। भारतीय वायु सेना में माव्या फ्लाइंग ऑफिसर के रूप में भर्ती हुई हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर, भारतीय वायुसेना में शामिल होने वाली 12वीं महिला अफसर और फाइटर पायलट के रूप में शामिल होने वाली राजौरी की पहली महिला अधिकारी बन गई हैं। 

 

एयर चीफ मार्शल राकेश कुमार सिंह भदौरिया ने शनिवार को वायु सेना अकादमी, डुंडीगल, हैदराबाद में आयोजित संयुक्त स्नातक पासिंग आउट परेड की समीक्षा की। माव्या के पिता विनोद सूडान ने बेटी की उपलब्धि पर खुशी जाहिर की है।  उन्होंने कहा कि उन्हें गर्व महसूस हो रहा है. अब वह सिर्फ हमारी बेटी नहीं, बल्कि इस देश की बेटी है। 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2021 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.