व्यापार में दिक्कतें दूर करने के लिए भारत-अमेरिका ने प्रस्तावों का आदान प्रदान किया है: प्रभु

Samachar Jagat | Monday, 29 Oct 2018 12:20:39 PM
India-US exchanges proposals to overcome problems in business prabhu

नई दिल्ली। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्री सुरेश प्रभु ने शनिवार को कहा कि द्विपक्षीय व्यापार से जुड़ी दिक्कतों को दूर करने पर समझौते के लिए भारत और अमेरिका ने एक-दूसरे के समझ अपने अपने प्रस्ताव पेश किए हैं। प्रभु ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा, भारत और अमेरिका के बीच व्यापार मुद्दों के समाधान के लिए बातचीत चल रही है। वास्तव में इस स्थिति में उन्होंने हमारे सामने एक पेशकश की है और जवाबी में हमने उनके सामने एक पेशकश रखी है। हम इस पर काम कर रहे हैं।

ग्राहक संतुष्टि के लिहाज से हुंदै अव्वल, मारुति 8वें पायदान परः अध्ययन

प्रभु का यह बयान ऐसे समय में महत्वपूर्ण माना जा रहा है जब भारत ने अमेरिका से आयातित 29 वस्तुओं पर आयात शुल्क लगाने की अधिसूचना को स्थगित कर दिया है। अमेरिका ने इस्पात और एल्युमीनियम पर आयात शुल्क लगाया था। जिसके जवाब में भारत ने अमेरिका से आयातित दाल, इस्पात सहित अन्य 29 उत्पादों पर सीमा शुल्क बढ़ाने की घोषणा की है। यह वृद्धि 2 नवंबर से लागू होगी। 

आर्थिक आंकड़े, तिमाही परिणाम और रुपये की चाल तय करेंगे शेयर बाजार का रुख

भारत अमेरिका में कुछ और वस्तुओं पर शुल्क बढ़ाए जाने से छूट देने तथा व्यापार में वरीयता (जीएसपी) की सामान्य व्यवस्था के तहत कुछ और वस्तुओं को शुल्क मुक्त प्रवेश की सुविधा चाहता है। विभिन्न वस्तुओं के लिए आयात कम किए जाने और भारत का अमेरिका को निर्यात 2017-18 में 47.9 अरब डॉलर का रहा जबकि उसका अमेरिका से आयात 26.7 अरब डॉलर रहा। व्यापार संतुलन भारत के पक्ष में है। —एजेंसी

 

 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2019 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.