किसानों को 26 लाख 96 हजार ईएमवी तकनीक आधारित स्मार्ट कार्ड होंगे जारी : सहकारिता राज्य मंत्री

Samachar Jagat | Wednesday, 30 Nov 2016 01:13:04 AM
किसानों को 26 लाख 96 हजार ईएमवी तकनीक आधारित स्मार्ट कार्ड होंगे जारी : सहकारिता राज्य मंत्री

जयपुर। राज्य के सुदूर गांवों एवं ढाणियों के सहकारी बैंकों से जुड़े किसानों को ‘कहीं भी-कभी भी बैंकिंग’ की सुविधा प्रदान होगी और इसके लिए ईएमवी (यूरोपे मास्टर वीजा) चिप एवं पिन आधारित 11 लाख 56 हजार रुपए डेबिट कार्ड एवं 15 लाख 40 हजार रुपए किसान कार्ड सहित कुल 26 लाख 96 हजार कार्ड जारी होंगे। इसके लिए नाबार्ड कंसलटेंसी सर्विसेज लि.(नेबकॉन्स) से सेवाएं लेने की प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी गई है।

ईएमवी चिप एवं पिन आधारित कार्ड एेसा अत्यानधुनिक तकनीक युक्त स्मार्ट कार्ड है जो सभी प्रकार के फ्रॉड से सुरक्षित है। बदलते हुए आर्थिक परिदृश्य एवं डिमोनेटाईजेशन के कारण आ रही समस्याओं के स्थाई एवं प्रभावी निराकरण के लिए राज्य में वित्तीय समावेशन के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए यह कदम उठाए गए हैं।

सभी एटीएम एनएफएस से जुडे़
राज्य के समस्त जिला केन्द्रीय सहकारी बैंकों एवं राज्य सहकारी बैंक के सभी एटीएम को 2 लाख से अधिक एटीएम के नेटवर्क के साथ नेशनल फाईनेंसियल स्विच (एन.एफ.एस.) से जोड़ दिए गए हैं। यह एक महत्वपूर्ण उपलब्धि है, जिसके माध्यम से सहकारी किसानों की एनीवेह्यर बैंकिंग की आवश्यकता पूरी हो पाएगी। नाबार्ड की डिपोजिट मोबिलाईजेशन एजेन्ट योजना के तहत सहयोग प्राप्त कर राज्य में 285 एटीएम स्थापित किए जा रहे हैं। राज्य में फाईनेंसियल इन्क्लुजन गेटवे के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम के तहत सभी जिला केन्द्रीय सहकारी बैंकों को कोर बैंकिंग सोल्यूशन के प्लेटफॉर्म पर लाया जा चुका है।

14 हजार 765 बिजनेस करस्पोंडेंट्स नियुक्त
अब सहकारी बैंकों के माध्यम से गांवों एवं ढाणियों में नकद आहरण, नकद जमा, कोषों का स्थाानान्तरण, मिनी स्टेटमेंट एवं बैलेंस इन्क्वायरी आदि की सुविधा को विस्तारित करने के लिए बिजनेस करस्पोंडेंट्स नियुक्त किए गए हैं। 27 नवम्बर, 2016 तक राज्य में कुल 14 हजार 765 बिजनेस करस्पोंंडेंट्स को केओ कोड जारी किए जा चुके हैं तथा इनके माध्यम से राशि 107 करोड़ रुपए से अधिक का वित्तीेय लेन-देन किया जा चुका है।

1 हजार 459 माईक्रो एटीएम हो रहे हैं स्थापित
रूपे कार्ड आधारित भुगतान को सुनिश्चित करने हेतु 270 माईक्रो एटीएम स्थाापित किए जा चुके हैं तथा नाबार्ड के सहयोग से 1 हजार 459 माईक्रो एटीएम स्थापित किए जा रहे हैं। इस संबंध में विभिन्न जिला केन्द्रीय सहकारी बैंकों से 1 हजार 145 माईक्रो एटीएम के लिए मांग प्राप्त हो चुकी है, मांग के अनुसार माईक्रो एटीएम की आपूर्ति राजस्थान इन्फा सर्विसेज लि. से कराई जा रही है। डिमोनेटाईजेशन के पश्चात् सहकारी बैंकों के एटीएमस् को प्राथमिकता से रिकेलिब्रेट करने की कार्यवाही की जा रही है।

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर
ज्योतिष

Copyright @ 2016 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.