कौन है आपका इष्ट देव ? किसकी पूजा करने से होंगे आपके सारे कष्ट दूर, जानिये

Samachar Jagat | Saturday, 13 Jan 2018 10:46:50 AM
Who is your favored god? Who will worship all your troubles away, know

ज्योतिष डेस्क। सामान्य मान्यता के अनुसार, प्रत्येक व्यक्ति का एक इष्ट देवता होता है। वह व्यक्ति उस इष्ट देव की पूजा करके अपने जीवन में सफलता प्राप्त कर सकता है। कई लोग जन्म कुंडली के आधार अपने इष्ट देवता का निर्धारण करते हैं। हालांकि, इष्ट देवता के साथ ग्रहों और ज्योतिष का कोई संबंध नहीं होता है।

किसी भी व्यक्ति के इष्ट देवता का निर्धारण उसके जन्म के पूर्व किये गए अनुष्ठान के आधार पर किया जाता है। इस मामले में, आपका इष्ट देवता वह होगा जिस से आप बिना किसी कारण के आकर्षित होते हैं। आपकी कुंडली में स्थित ग्रह कभी भी आपके इष्ट देव का निर्धारण नहीं करते है। इसलिए, कभी भी ज्योतिष के आधार पर अपने इष्ट देवता का निर्धारण न करें। हालांकि, आप ग्रह संबंधी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए अपने इष्ट देवी-देवता की पूजा कर सकते हैं।

आइये जानते है आपको ग्रहों से सम्बंधित समस्याओं के लिए किन देवी देवताओं की पूजा करनी चाहिए।

सूर्य - कुंडली में स्थित सूर्य ग्रह से संबंधित समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए आपको भगवान सूर्य की पूजा करनी चाहिए। साथ ही गायत्री मंत्र "ॐ भूर्भुवः स्वः । तत्स॑वि॒तुर्वरेण्यं॒ भर्गो॑ दे॒वस्य॑धीमहि । धियो॒ यो नः॑ प्रचो॒दया॑त्॥ का जाप करें।

चंद्रमा - चंद्र ग्रह से संबंधित समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए भगवान शिव की पूजा करें।

मंगल - मंगल ग्रह से संबंधित समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए भगवान हनुमान या कार्तिकेय की पूजा करें।

बुध - बुध ग्रह से सम्बंधित समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए देवी दुर्गा की पूजा करें।

बृहस्पति - बृहस्पति ग्रह से संबंधित समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए भगवान श्री हरी की पूजा करें।

शुक्र - शुक्र ग्रह से संबंधित समस्याओं को दूर करने के लिए देवी लक्ष्मी या गौरी की पूजा करें।

शनि - अगर आप अपने जीवन में शनि ग्रह से संबंधित समस्याओं का सामना कर रहे है तो इनको दूर करने के लिए भगवान शिव या श्री कृष्ण की पूजा करें।

राहु - राहु ग्रह से संबंधित समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए भगवान भैरव की पूजा करें।

केतु - कुंडली में स्थित केतु ग्रह से संबंधित समस्याओं को दूर करने के लिए भगवान गणेश की पूजा करें।

 

शरीर और मन को शुद्ध करने के लिए आपको भगवान सूर्य की पूजा करनी चाहिए। आपको सुबह के समय सूर्य को पानी चढ़ाना चाहिए। आप इसके लिए उगते सूरज के सामने भी खड़े हो सकते हैं। इस से शरीर और ग्रहों को पर्याप्त मात्रा में ऊर्जा मिलती है।



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.