भाजपा सबसे विशाल और विश्वसनीय दल

Samachar Jagat | Monday, 16 Apr 2018 12:28:38 PM
BJP is largest and most trusted team

नेशनल डेस्क। भारत में भाजपा इस समय एक बड़ी विश्वसनीय पार्टी बनकर उभरी है 2014 के लोकसभा चुनाव के पहले से देश में मोदी लहर चली जो आजतक कायम है और 2019 के आम चुनावों में भी शायद जारी रहेगी। इस समय भारत के लगभग 20 राज्यों में भाजपा और उसके सहयोगी पार्टियों की सरकार है, इससे यह अनुमान लगाया जा सकता है की देश के लोगों ने भाजपा पर अपना विश्वास जताया है, जिसके चलते देश में अभी मोदी राज कायम है।

इन्हीं राज्यों के मुख्यमंत्रियों में से यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि केन्द्र और भाजपा शासित राज्यों में विकास और सुशासन की बदौलत पार्टी लोकप्रियता के नये आयाम गढ़ रही है। योगी ने कहा कि विकास और सुशासन को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्थापित किया है और सभी भाजपा शासीत राज्यों के सीएम से उम्मीद है कि प्रखर सिपाही बनकर देश को आगे बढ़ायेंगे। उन्होंने प्रधानमंत्री और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के प्रति आभार जताया

भारतीय जनता पार्टी की स्थापनाः

आपकों बता दे इससे पहले 1977 से 1979 तक इसे जनता पार्टी के साथ के भारतीय जन संघ और उससे पहले 1951 से 1977 तक भारतीय जन संघ के नाम से जाना गया। भारतीय जनता पार्टी की स्थापना 1980 में हुई।

भारतीय जन संघः

भारतीय जन संघ की स्थापना श्यामा प्रसाद मुखर्जी ने 1951 में की थी। भारतीय जन संघ ने शुरु से ही कश्मीर की एकता, गौ रक्षा, जमींदारी प्रथा और परमिट-लाइसेंस-कोटा राज खत्म करने जैसे मुद्दों को अपनाया और लोगों के बीच में अपनी विशेष पहचान बनाई।

आपातकाल के बाद हुआ था बदलावः

1975 में इंदिरा गांधी ने आपातकाल की घोषणा की और इस दौरान विपक्षी पार्टियों की तरह जन संघ के भी कई कार्यकर्ताओं को जेल में डाला गया। 1977 में आपातकाल की समाप्ति के बाद हुए चुनावों में कांग्रेस की हार हुई। इसके बाद हुए चुनावों में मोरारजी देसाई देश के प्रधानमंत्री बने और आपसी गुटबाजी के चलते इनकी सरकार ज्यादा नहीं चल पाई। 1980 के चुनावों में विभाजित जनता पार्टी की हार हुई। भारतीय जन संघ जनता पार्टी से अलग हुआ और इसने अपना नाम बदल कर भारतीय जनता पार्टी रख लिया और अटल बिहारी वाजपेयी पार्टी के अध्यक्ष बने।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्षः 

बीजेपी अध्यक्ष                                      कार्यकाल
अटल बिहारी वाजपेयी -                       1980 से 1986
लालकृष्ण आडवाणी -                          1986 से 1991
मुरली मनोहर जोशी -                          1991 से 1993
लालकृष्ण आडवाणी -                          1993 से 1998
कुशाभाऊ ठाकरे -                                1998 से 2000
बंगारू लक्ष्मण    -                                2000 से 2001
जेना कृष्णमूति -                                 2001 से 2002
वेंकैया नायडु-                                      2002 से 2004
लालकृष्ण आडवाणी-                            2004 से 2006
राजनाथ सिंह-                                     2006 से 2009
नितिन गडकरी-                                   2009 से 2013
राजनाथ सिंह -                                    2013 से 2014 
अमित शाह -                                       2014 से वर्तमान
 



 

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!

loading...
ताज़ा खबर

Copyright @ 2018 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.