डब्लूएचओ ने कहा सिर्फ लॉकडाउन काफी नहीं है

Samachar Jagat | Tuesday, 24 Mar 2020 07:29:23 PM
2972446658917988

कोरोना वायरस ने पूरी दुनिया को अपनी गिकफ्त में ले लिया है. लाखों लोग संक्रमित हैं और हजारों की मौत हो चुकी है. भारत में भी लगातार संक्रमित लोगों की तादाद बढ़ती जा रही है. कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए भारत में कई शहरों में कर्फ्यू लगा दिया गया है और कई शहरों में लॉकडाउन कर दिया गया है. कोरोना वायरस से मुकाबले के लिए चीन ने जिस तरह लॉकडाउन को हथियार बनाया था उसके बाद जिन देशों में भी कोरोना ने कहर बरपाया वह लॉकडाउन को अपना रहे हैं. भारत में भी लॉकडाउन ट्रेंड कर रहा है और अधिकांश राज्यों ने अब तक खुद को लॉकडाउन कर लिया है. लेकिन सरकारों की तरफ से लॉकडाउन के फैसले के बाद बड़ा सवाल यह उठ रहा है कि क्या लॉकडाउन से कोरोना को खत्म किया जा सकता है.



loading...

वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गेनाइजेशन यानी (डब्लूएचओ) ने साफ कर दिया है कि केवल लॉकडाउन के जरिए कोरोना को नहीं रोका जा सकता. डब्लूएचओ के माइक रायन ने कहा है कि लॉकडाउन से कोरोना वायरस का फैलाव कम किया जा सकता है लेकिन इससे पूरी तरह काबू में नहीं लाया जा सकता. माइक रायन के मुताबिक अगर कोरोना पर पूरी तरह से जीत हासिल करनी है तो इससे इनफेक्टेड लोगों की पहचान कर उनका इलाज कराना होगा. 

डब्लूएचओ विशेषज्ञ के मुताबिक लॉकडाउन के साथ सबसे बड़ी परेशानी यह है कि जब भी इसे खत्म किया जाएगा तो बड़ी संख्या में लोगों के बाहर आने से कोरोना का खतरा फिर बढ़ जाएगा. डब्लूएचओ ने अपनी तरफ से लॉकडाउन को लेकर उन देशों को सलाह दी है जहां कोरोना वायरस कहर बरपा रहा है. देश के कई शहर में लॉकडाउन है. जनता कर्फ्यू के की सफलता के बाद लॉकडाउन उतना सफल नजर नहीं आ रहा है. दुकानें बंद हैं, ऑटो और लोकल बस नहीं चल रहे हैं लेकिन सड़कों पर गाड़ियां चल रहीं हैं. लोग समझ ही नहीं रहे हैं. पुलिस उन्हें समझा रहा है.

ऐसे में पटना की ट्रैफिक पुलिस ने लोगों को मनाने का नया रास्ता निकाला है. पटना ट्रैफिक पुलिस के जवानों ने लोगों को फूल देकर बताया है कि पटना में लॉकडाउन है, प्लीज आप लोग घर पर ही रहें. कोरोना से लड़ाई लड़नी है तो हमें ज्यादा से ज्यादा खुद को घरों में कैद करना होगा. लोगों ने ट्रैफिक पुलिस की इस आग्रह को स्वीकार किया और कहा कि अब घर से बाहर नहीं निकलेंगे. लोगों के रवैये पर केंद्र और राज्य सरकारें सख्त रवैया अपना रहीं हैं. इसलिए कई राज्यों में कर्फ्यू का एलान कर दिया गया तो लॉकडाउन पर सड़कों पर निकलने वाले से अब सख्ती से निपटा जा रहा है. इसका असर कितना होता है, यह देखना बाकी है. (राजनीतिक-सामाजिक मुद्दों पर सटीक विश्लेशण के लिए पढ़ें और फॉलो करें).


loading...


 
loading...

यहां क्लिक करें : हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें, समाचार जगत मोबाइल एप। हिन्दी चटपटी एवं रोचक खबरों से जुड़े और अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें!




Copyright @ 2020 Samachar Jagat, Jaipur. All Right Reserved.